लाइव टीवी

पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाने वालों के लिए बड़ी खबर! अपने पैसे निकालने पर देना होगा टैक्स, जानिए क्या है नियम

News18Hindi
Updated: January 11, 2020, 3:05 PM IST
पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाने वालों के लिए बड़ी खबर! अपने पैसे निकालने पर देना होगा टैक्स, जानिए क्या है नियम
पोस्ट ऑफिस पासबुक

एक वित्तीय वर्ष में अगर आप तय सीमा से अधिक पैसे निकालते हैं तो इसके लिए आपको TDS (Tax Deducted at Source) भी देना पड़ सकता है. हाल ही में केंद्र सरकार (Central Government) एक प्रावधान लेकर आई है, जिसके तहत अगर आप 1 सितंबर 2019 के बाद अपने अकाउंट से वित्त वर्ष 2019-20 में 1 करोड़ रुपये से अधिक की रकम निकासी करते हैं तो इसके लिए आपको 2 फीसदी TDS देना अनिवार्य होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2020, 3:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. स्मॉल सेविंग स्कीम्स (Small Saving Schemes) के ​लिहाज से पोस्ट ऑफिस स्कीम्स (Post Office Schemes) पर लोगों का सबसे अधिक भरोसा होता है. लेकिन, क्या आपको पता है कि एक वित्तीय वर्ष में अगर आप तय सीमा से अधिक पैसे निकालते हैं तो इसके लिए आपको TDS (Tax Deducted at Source) भी देना पड़ सकता है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, हाल ही में केंद्र सरकार (Central Government) एक प्रावधान लेकर आई है, जिसके तहत अगर आप 1 सितंबर 2019 के बाद अपने अकाउंट से वित्त वर्ष 2019-20 में 1 करोड़ रुपये से अधिक की रकम निकासी करते हैं तो इसके लिए आपको 2 फीसदी TDS देना अनिवार्य होगा. साथ ही पोस्ट ऑफिस को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि अकाउंट होल्डर का पैन कार्ड उनके सिस्टम में रजिस्टर्ड हो.

आइए जानते हैं ​इस नियम के बारे में...

इस नए प्रावधान के तहत कटेगा TDS
केंद्र सरकार ने इनकम टैक्स एक्ट 1961 (Income Tax Act, 1961) में फाइनेंस एक्ट 2019 के तहत यह प्रावधान किया है. इसमें वित्त वर्ष 2019—20 में 1 करोड़ रुपये से अधिक की रकम निकासी पर 2 फीसदी TDS काटना अनिवार्य कर दिया गया है. इसे 1 सितंबर 2019 से लागू भी कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: JNU मामले पर दीपिका पादुकोण को लेकर पूर्व RBI गवर्नर ने कही बड़ी बात

CBDT ने दी सफाई
सरकार के इस प्रावधान के बाद 1 अप्रैल 2019 से लेकर 31 अगस्त 2019 के बीच नकदी निकासी को लेकर भी कन्फ्यूजन था क्योंकि उपरोक्त नए नियम को 1 सितंबर 2019 के लागू किया गया है. CBDT ने पहले ही इस पर सफाई दे दी है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने कहा, 'लोगों की चिंता को दूर करते हुए यह साफ किया जाता है कि सेक्शन 194N को 1 सितंबर 2019 से लागू किया गया है. ऐसे में अगर आप 1 सितंबर 2019 के बाद से अकाउंट से 1 करोड़ रुपये की निकासी करते हैं तो इसके लिए आपको 2 फीसदी TDS देना होगा.'यह भी पढ़ें: इस दिन तक बढ़ी बिना लेट फीस दिए GSTR-1 दाखिल करने की डेडलाइन

इस जरूरी बात का भी रखें ध्यान
चूंकि, इस नियम को पूरे वित्तीय वर्ष पर लागू किया है, ​नकदी निकासी की पूरी रकम पर पूरे वित्तीय वर्ष के आधार पर कैलकुलेट किया जाएग. ऐसे में अगर आपने 31 अगस्त 2019 के पहले 1 करोड़ रुपये या उससे अधिक रकम की निकासी की है तो 1 सितंबर के बाद किसी भी निकासी पर आपको 2 फीसदी का टीडीएस देना होगा.

यह भी पढ़ें: किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार की नई स्कीम PKVY, जारी किए 1632 करोड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 11, 2020, 2:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर