होम /न्यूज /व्यवसाय /कम ब्‍याज दर में भी करोड़पति बना सकता है PPF में निवेश, कैलकुलेशन देख आप खुद कहेंगे वाह!

कम ब्‍याज दर में भी करोड़पति बना सकता है PPF में निवेश, कैलकुलेशन देख आप खुद कहेंगे वाह!

पीपीएफ पर सरकार 7.1 फीसदी ब्‍याज दे रही है.

पीपीएफ पर सरकार 7.1 फीसदी ब्‍याज दे रही है.

पीपीएफ को लॉन्‍ग टर्म निवेश के लिए एक बेहतर विकल्‍प माना जाता है. अच्‍छी ब्‍याज दर, टैक्‍स छूट और जोखिम न होने के कारण ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

PPF अकाउंट पर ब्याज दर को केंद्र सरकार हर तिमाही में संशोधित करती है.
पीपीएफ खाते की परिपक्वता अवधि 15 साल है.
खाते को आगे चालू रखने के लिए फॉर्म 16-एच जमा करना पड़ता है.

नई दिल्‍ली. पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) में निवेश जोखिम रहित तो होता ही है, साथ ही इसमें गारंटीड रिटर्न भी मिलता है. बढ़िया ब्‍याज दर और टैक्‍स छूट जैसी सुविधाओं के चलते पीपीएफ में पैसा लगाने वालों की तादात बढ़ रही है. पीपीएफ में एक वित्त वर्ष में न्‍यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक जमा किए जा सकते हैं.

फिलहाल पीपीएफ खाताधारक को पीपीएफ पर 7.10 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है. पीपीएफ की ब्याज दर हर तिमाही संशोधन होता है. पिछले कुछ वर्षों में मिले औसत ब्‍याज के आधार पर भी हम गणना करें तो अगर कोई व्‍यक्ति 35 वर्षों के लिए पीपीएफ खाते में प्रति माह 12,500 का निवेश करता है, तो उसे खाता मैच्‍योर होने पर 2.27 करोड़ रुपये मिलेंगे. पीपीएफ पर किए निवेश पर सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट (Tax Exemption) मिलती है. ब्याज आय पर और मैच्योरिटी पर मिलने वाली रकम पर भी टैक्स नहीं चुकाना होता है. यही नहीं सब्सक्राइबर्स PPF अकाउंट पर लोन भी ले सकते हैं. इस लोन पर ब्‍याज भी बहुत ज्‍यादा नहीं होता है.

ये भी पढ़ें- Free Electricity : सरकार का आदेश- Aadhaar से जोड़ें कनेक्‍शन तभी मिलेगी 100 यूनिट तक फ्री बिजली

बढ़ाई जा सकती है परिपक्‍वता अवधि
लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, सेबी पंजीकृत कर और निवेश विशेषज्ञ जितेंद्र सोलंकी का कहना है कि 1.5 लाख तक के निवेश पर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत छूट मिलती है. इस तरह डेढ लाख की कर छूट का सालाना फायदा उठाया जाता सकता है. सोलंकी ने बताया कि पीपीएफ खाते की परिपक्वता अवधि 15 साल है. खाते को आगे चालू रखने के लिए फॉर्म 16-एच जमा करना पड़ता है. इससे पांच साल के लिए खाता और बढ़ जाता है. खाताधारक पांच-पांच साल के लिए कई बार खाते की मैच्‍योरिटी अवधि बढ़वा सकता है. इस तरह अगर कोई व्‍यक्ति 35 वर्षों तक पीपीएफ में निवेश करना चाहता है तो उसे खाता खुलवाने के 15वें, 20वें, 25वें और 30वें साल में फार्म16-एच जमा कराना होगा.

ऐसे बढ़ेगा पैसा
अगले 35 वर्षों के लिए पीपीएफ ब्याज दर 7.10 प्रतिशत मानते हुए, यदि कोई निवेशक प्रति माह 12,500 रुपये या एक वर्ष में 1.50 लाख रुपये का निवेश करता है, तो उसे मैच्‍योरिटी पर 2,26,97,857 रुपये मिलेंगे. 35 साल में उसका कुल निवेश 52, 50, 000 रुपये होगा. इस निवेश पर उसे 1,74,47,857 रुपये ब्‍याज मिलेगा. एक व्यक्ति अपने नाम से सिर्फ एक अकाउंट खोल सकता है.

Tags: Epfo, Investment tips, Personal finance, PF account, PPF, PPF account

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें