होम /न्यूज /व्यवसाय /

Union Budget 2022-23: PPF अकाउंट होल्डर्स के लिए खुशखबरी, निवेश लिमिट हो सकती है दोगुनी

Union Budget 2022-23: PPF अकाउंट होल्डर्स के लिए खुशखबरी, निवेश लिमिट हो सकती है दोगुनी

पीपीएफ खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल है.

पीपीएफ खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल है.

Union Budget 2022-23: 1 फरवरी 2022 को पेश किए जाने वाले आम बजट में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) में निवेश की लिमिट को 1.5 लाख से बढ़ाकर 3 लाख रुपये सलाना करने की इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (ICAI) ने सिफारिश की है.

नई दिल्ली. आम बजट (Budget 2022-23) पेश होने में अब एक महीने से भी कम समय बचा है. वहीं, चार्टड अकाउंटेंट की संस्था इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया यानी आईसीएआई (ICAI) ने अपने बजट पूर्व ज्ञापन में पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी पीपीएफ (Public Provident Fund) स्कीम को लेकर सिफारिशें भेजी हैं. इसके तहत आईसीएआई ने कहा है कि पीपीएफ जमा की अधिकतम एनुअल लिमिट बढ़ाई जाए. उन्होंने मांग की है कि मौजूदा हालात को देखते हुए जमा की लिमिट को बढ़ाकर 3 लाख रुपये की जाए. मौजूदा लिमिट 1.5 लाख रुपये है.

पीपीएफ लिमिट में बढ़ोतरी पर आईसीएआई की सिफारिश संसद में बजट सत्र शुरू होने से कुछ हफ्ते पहले आई है. बजट सत्र इस साल 1 फरवरी से शुरू होने वाला है और इसमें कई मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इसी दिन संसद में एनुअल बजट पेश करेंगी.
आईसीएआई के मुताबिक पीपीएफ में निवेश की लिमिट को बढ़ाने से जीडीपी में लिमिट सेविंग की हिस्सेदारी को बढ़ाने में मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें- अब किस्‍त भरने डाकघर जाने की नहीं है जरूरत, PPF सहित इन योजनाओं में ऑनलाइन करें पेमेंट

क्या है पीपीएफ स्कीम
पब्लिक प्रोविडेंट फंड या पीपीएफ (Public Provident Fund) एक लोकप्रिय लॉन्ग टर्म निवेश विकल्प है. पीपीएफ खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल है. साल भर में इसमें अधिकतम 1.50 लाख रुपए का निवेश किया जा सकता है. इस अकाउंट में ब्‍याज दरें सरकार समय समय पर तय करती है. खास बात है कि इसमें हर लाल 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्‍स से छूट मिलती है. इतना ही नहीं पीपीएफ EEE (Exempt- Exempt- Exempt) कैटिगरी के तहत आता है यानी मैच्योरिटी पर जो पैसा मिलता है वह भी टैक्स फ्री होता है.

ये भी पढ़ें- देश में चलेंगी ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कार, नितिन गडकरी करेंगे शुरुआत, जानें क्या है इसका भविष्य?

पीपीएफ में न्यूनतम 500 रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक की रकम प्रति साल जमा किया जा सकता है. पीपीएफ में इन्वेस्टमेंट कोई भी सामान्य भारतीय नागरिक (वेतनभोगी या गैर-वेतनभोगी) कर सकता है. हालांकि, पीपीएफ को हिंदू अविभाजित परिवारों (Hindu Undivided Family) द्वारा नहीं खोला जा सकता है.

Tags: Budget, Nirmala Sitaraman, PPF, PPF account

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर