Home /News /business /

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए रजिस्‍ट्रेशन कराने वाले किसानों की संख्या घटी, लेकिन आवेदन बढ़े

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए रजिस्‍ट्रेशन कराने वाले किसानों की संख्या घटी, लेकिन आवेदन बढ़े

कृषि मंत्रालय से प्रधानमंत्री फसब बीमा योजना को ज्यादा से ज्यादा तकनीक आधारित बनाने की सिफारिश की है.

कृषि मंत्रालय से प्रधानमंत्री फसब बीमा योजना को ज्यादा से ज्यादा तकनीक आधारित बनाने की सिफारिश की है.

कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय (Ministry of Agriculture and Farmers Welfare) के आंकड़ों के मुताबिक, खरीफ मौसम 2019 में 2 करोड़ किसानों ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में पंजीकरण (PMFBY Registrations) कराया था. वहीं, 2020 में 1.67 करोड़ किसानों ने योजना में पंजीकरण (Farmers Registrations) कराया. इसके अलावा रबी मौसम 2020 में 99.95 लाख किसानों ने पंजीकरण कराया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) के तहत पंजीकरण कराने वाले किसानों की संख्या में खरीफ मौसम 2018 (Kharif Season) के मुकाबले 2021 में करीब 30 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, पीएमएफबीवाई के तहत खरीफ मौसम 2018 में 2.16 करोड़ किसानों ने रजिस्‍ट्रेशन (PMFBY Registrations) कराया था, जो खरीफ मौसम 2021 में घटकर 1.50 करोड़ हो गया. हालांकि, किसानों की ओर से आवेदनों की संख्या बढ़ी है. दूसरे शब्‍दों में समझें तो 2018 से 2021 खरीफ मौसम के दौरान योजना के तहत पंजीकरण कराने वाले किसानों की संख्या में करीब 30 फीसदी की गिरावट आई है.

    किसानों तक समय पर लाभ पहुंचाना है मकसद
    मंत्रालय के आंकड़े के मुताबिक, खरीफ मौसम 2019 में 2 करोड़ किसानों ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में पंजीकरण कराया था. वहीं, 2020 में 1.67 करोड़ किसानों ने योजना में पंजीकरण कराया. इसके अलावा रबी मौसम 2018 में 1.46 करोड़ किसानों ने योजना में पंजीकरण कराया, जबकि 2019 में 96.60 लाख किसान और रबी मौसम 2020 में 99.95 लाख किसानों ने पंजीकरण कराया था. बता दें कि पुरानी फसल बीमा योजनाओं में सुधार के साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत 2016-17 में हुई थी. इस योजना के संचालन दिशानिर्देशों में रबी मौसम 2018 और खरीफ मौसम 2020 में संशोधन किया गया था. इसका मकसद किसानों तक योजना का लाभ समय पर पहुंचाना है.

    ये भी पढ़ें- Post office Scheme: सिर्फ 1500 रुपये हर महीने जमा कर पाएं 35 लाख रुपये, जानें स्‍कीम के बारे में सबकुछ

    कितने किसानों ने कब किया योजना में आवेदन
    कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय का कहना है कि 21 अक्टूबर 2021 के आंकड़ों के मुताबिक, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ मौसम 2018 में कर्ज लेने वाले किसानों की ओर से 2.04 करोड़ आवेदन और कर्ज नहीं लेने वाले किसानों की ओर से 1.15 करोड़ आवेदन आए. खरीफ मौसम 2019 में कर्ज लेने वाले किसानों से 2.38 करोड़ आवेदन और कर्ज नहीं लेने वाले किसानों से 1.68 करोड़ आवेदन आए. वहीं, 2020 में कर्ज लेने वाले किसानों से 2.68 करोड़ आवेदन और कर्ज नहीं लेने वाले किसानों से 1.42 करोड़ आवेदन आए. खरीफ मौसम 2021 में कर्ज लेने वाले किसानों से 3.74 करोड़ आवेदन और कर्ज नहीं लेने वाले किसानों से 1.23 करोड़ आवेदन आए.

    ये भी पढ़ें- भारत की GDP में 2050 तक होगी 406 अरब डॉलर की वृद्धि, 4.3 करोड़ लोगों को मिलेगा रोजगार: ORF

    कितने राज्‍यों में लागू है पीएम फसल बीमा योजना
    मंत्रालय के मुताबिक, रबी मौसम 2018 में कर्ज लेने वाले किसानों से 1.33 करोड़ आवेदन आए, जबकि रबी मौसम 2019 में 1.31 करोड़ आवेदन और 2020 में 1.23 करोड़ आवेदन आए. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ मौसम 2018 के दौरान 22 राज्यों के 475 जिलों में लागू थी. खरीफ मौसम 2021 में यह योजना देश के 19 राज्यों के 404 जिलों में लागू है. वहीं, रबी मौसम 2018 में यह योजना देश के 21 राज्यों के 486 जिलों में लागू थी. रबी मौसम 2020 में यह योजना देश के 18 राज्यों के 389 जिलों में लागू थी.

    ये भी पढ़ें- सर्दियों ही नहीं पूरे साल रहती है जबरदस्‍त मांग, शुरू करें ये खेती तो होगा 15 लाख रुपये सालाना से ज्यादा का मुनाफा

    संसदीय समिति ने किन बातों पर ध्‍यान देने को कहा
    संसद में अगस्त 2021 में पेश कृषि संबंधी संसदीय समिति ने अपनी रिपोर्ट में प्रधानमंत्री फसल बीमा के संबंध में सरकार से पंजाब, बिहार, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, गुजरात, तेलंगाना और झारखंड की ओर से योजना को वापस लेने या लागू नहीं करने के कारणों पर ध्यान देकर कदम उठाने के लिए कहा था. रिपोर्ट में समिति ने दावों के निपटारे में देरी को अस्वीकार्य बताया था और कृषि मंत्रालय से इस योजना को ज्यादा से ज्यादा तकनीक आधारित बनाने की सिफारिश की थी.

    Tags: Agriculture ministry, Ministry of Agriculture and Welfare, Modi government, PM Kisan, PM Kisan Samman Nidhi Yojana, Pm narendra modi, Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर