क्या है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना, कैसे मिलेगा आपको फायदा, जानिए इसके बारे में सबकुुछ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojna Part-2) के अंतर्गत गरीबों को मुफ्त राशन की योजना को नवंबर तक बढ़ाया जा रहा है. अब ये योजना नवंबर तक देश में लागू रहेगी. इस योजन के तहत गरीबों को 5 किलो मुफ्त गेंहू या चावल और एक किलो चना दिया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) ने घोषणा की कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojna Part-2) के अंतर्गत गरीबों को मुफ्त राशन की योजना को नवंबर तक बढ़ाया जा रहा है. अब ये योजना नवंबर तक देश में लागू रहेगी. इस योजन के तहत गरीबों को 5 किलो मुफ्त गेंहू या चावल और एक किलो चना दिया जाएगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस योजना को नंवबर तक लागू करने में 90 हजार करोड़ का अतिरिक्त खर्च आएगा. पीएम ने ये भी कहा कि जब से ये योजना शुरू हुई है तब से नवंबर तक इसमें डेढ़ लाख करोड़ तक का खर्च आएगा.

पीएम ने कहा कि त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है. इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए.​

जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए हुए जमा- पीएम ने बताया कि बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं.




प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के बारे में जानिए...

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिये ‘लॉकडाउन’ के प्रभाव से लोगों को बचाने के लिये पिछले महीने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) योजना की घोषणा की थी. कुल 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज के तहत सरकार ने गरीबों को मुफ्त में राशन, महिलाओं और गरीब वरिष्ठ नागरिकों तथा किसानों को नकद सहायता देने आदि की घोषणा की थी. इसमें पीएम किसान स्कीम के तहत 8 करोड़ किसानों के खाते में सीधे रकम ट्रांसफर हुई है.

महिला जन धन खाते में ट्रांसफर हुए 31 हजार करोड़ रुपये - बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं.

उज्ज्वला स्कीम में मुफ्त में मिला LPG सिलिंडर-मंत्रालय के अनुसार, 3.05 करोड़ रसोई गैस सिलेंडर प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत बुक किए गए हैं. कुल 2.66 करोड़ मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर का वितरण लाभार्थियों को पहले ही किया जा चुका है. महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी कानून (मनरेगा) के तहत श्रमिकों की मजदूरी भी बढ़ाई गई है. इसे एक अप्रैल से अधिसूचित किया गया है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे. अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है. अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड ‘one nation one ration card’. इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं.

ऐसे उठाएं फायदा-आपको जानकर थोड़ी हैरानी हो सकती है मगर पीएम गरीब कल्याण य़ोजना में आवेदन करने के लिए कोई प्रोसेस अलग से नहीं बनाया गया है. जी हां, जैसे मुफ्त राशन के लिए आपके राशन कार्ड से बात बना जाएगी. अगर आपके पास राशन कार्ड नहीं तो आप इसके लिए अप्लाई कर सकते है. इसकी पूरी जानकारी लिंक पर क्लिक करकें मिल जाएगी.

घर बैठे बनवाएं राशन कार्ड और जोड़े फैमिली मेंबर का नाम, जानिए क्या है तरीका

आपको बता दें कि नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद आई इस योजना को शुरू किया गया था. इस स्कीम के तहत अपनी अघोषित आय का खुलासा करने वालों को टैक्स में 50 फीसदी छूट तय की गई थी. साथ ही इसमें से 25 फीसदी राशि 4 साल तक सरकार के पास रखने का नियम बनाया गया. यह रकम बिना किसी ब्याज के 4 साल बाद सरकार उस व्यक्ति को लौटा देगी. सरकार ने कहा था कि इसी रकम को गरीब कल्याण योजना फंड में रख कर कल्य़ाणकारी योजनाओं में खर्च किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज