अपना शहर चुनें

States

प्रधानमंत्री किसान पेंशन स्कीम: 3000 रुपये के लिए लागू होंगी ये शर्तें, यहां होगा रजिस्ट्रेशन!

मौसम बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. क्योंकि बारिश की वजह से खेतों में पक चुकी धान की फसल खराब होने लगी है.(प्रतीकात्‍मक फोटो)
मौसम बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. क्योंकि बारिश की वजह से खेतों में पक चुकी धान की फसल खराब होने लगी है.(प्रतीकात्‍मक फोटो)

प्रधानमंत्री किसान पेंशन स्कीम के लिए किसानों को हर माह 55 से लेकर 100 रुपये तक का अंशदान देना होगा. उम्र होनी चाहिए 18 से 40 साल!

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2019, 10:42 AM IST
  • Share this:
आजादी के दिन यानी 15 अगस्त को मोदी सरकार किसानों के लिए एक और स्कीम की घोषणा कर सकती है. पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल की पहली कैबिनेट में ही इस योजना को हरी झंडी दे दी थी. 15 अगस्त को इसकी लॉंचिंग को लेकर कृषि सचिव ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर इसे लागू करने के लिए मैकेनिज्म तैयार करने के निर्देश दिए हैं. इस स्कीम से देश के करीब 12 करोड़ किसानों को फायदा मिलेगा. पहले चरण में करीब 5 करोड़ किसान इसका फायदा उठा पाएंगे, जिसमें हर किसान को सीनियर सिटीजन होते ही 3000 रुपये महीने मिलेंगे. इससे उनकी आगे की जिंदगी काफी आसान हो जाएगी. इससे सरकारी खजाने पर 10,775 करोड़ सालाना बोझ पड़ेगा.

रजिस्ट्रेशन के लिए चाहिए ये डॉक्यूमेंट्स!
>> आधार कार्ड
>> जमीन रिकॉर्ड
>> बैंक पासबुक
>> राशन कार्ड


>> 2 फोटो

>> कृषि विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इच्छुक किसान कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए पेंशन स्कीम में रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. साथ ही, किसान अपने लेखपाल और कृषि अधिकारी से भी इसको लेकर संपर्क कर सकते हैं.

आपको बता दें कि यह एक स्वैच्छिक स्कीम है, लेकिन लघु और सीमांत किसानों के लिए ही है.


क्या है प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना- 
>> इसके तहत अब 60 साल की उम्र में 3000 रुपये की पेंशन मिलेगी. प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के अंतर्गत 12 करोड़ किसान आएंगे. अगले हफ्ते इसके रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएंगे. सरकार की ओर से जल्द इसकी जानकारी जारी होगी. उम्र होनी चाहिए 18 से 40 साल.

ये भी पढ़ें-13 हजार में शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, होगी अच्छी कमाई

>> वित्त मंत्रालय के उच्चाधिकारियों के अनुसार इस स्कीम में राज्य सरकारों का पूरा सहयोगा लिया जाएगा. राज्यों को कहा गया है कि वे ज्यादा से ज्यादा किसानों को इसका लाभ पहुंचाने के लिए सहयोग दें.

>> जहां तक इस स्कीम में वित्त संबंधी तकनीकी बातें हैं, उस बारे में सहमति बन गई है. केंद्र सरकार इसका पूरा जिम्मा लेगी और राज्य सरकारों पर किसी प्रकार का वित्तीय बोझ नहीं डाला जाएगा.

किसानों को हर महीने मिलेगी 3000 रुपये की पेंशन


क्या है खास
>> इसमें 18 साल के किसान को 55 रुपया मासिक देना होगा.
>> मोदी सरकार भी बराबर राशि का पेंशन निधि में अंशदान करेगी.
>>इस योजना के तहत किसान पीएम-किसान स्कीम से प्राप्‍त लाभ में से सीधे ही अंशदान करने का विकल्‍प चुन सकते हैं.
>> पारदर्शिता के लिए ऑनलाइन शिकायत निवारण प्रणाली बनाई जाएगी.
>> अगर लाभ पाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसके पति/पत्नी को 50% रकम मिलती रहेगी.
इस कोष का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) करेगा.

कम उम्र तो कम प्रीमियम 
>> प्रधानमंत्री-किसान पेंशन योजना के तहत लाभार्थी की योजना से जुड़ने के समय औसत उम्र 29 साल है तो उसे 100 रुपये महीने का योगदान देना होगा.

>> इसका मतलब है कि अगर लाभार्थी की उम्र 29 से कम है तो उसे योगदान कम देना होगा, वहीं 29 से अधिक उम्र होने पर उन्हें कुछ ज्यादा योगदान देना होगा.

ये भी पढ़ें: 

15 अगस्त को पीएम करेंगे किसानों के लिए 3000 रु पेंशन ऐलान!

देश में कृषि वैज्ञानिकों की भारी कमी, 21 फीसदी पद खाली, कैसे आगे बढ़ेगी खेती-किसानी? 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज