लाइव टीवी

क्या आप इन 12 करोड़ किसानों में हैं शामिल जिन्हें नहीं मिला तीसरी किश्त का पैसा?

News18Hindi
Updated: September 20, 2019, 4:08 PM IST
क्या आप इन 12 करोड़ किसानों में हैं शामिल जिन्हें नहीं मिला तीसरी किश्त का पैसा?
PM-किसान सम्मान निधि: 14 राज्यों के किसानों को नहीं मिली 2000 रुपये की तीसरी किस्त, यहां करें शिकायत

PM-किसान सम्मान निधि स्कीम (PM-kisan samman Nidhi scheme) की तीसरी किश्त देश के 1.41 करोड़ किसानों के बैंक अकाउंट में तो पहुंच गई है, लेकिन 12 करोड़ किसान अब भी 2000 रुपये की अंतिम किश्त का इंतजार कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 20, 2019, 4:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव से पहले 24 फरवरी को गोरखपुर में लॉन्च हुई पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम (PM-kisan samman Nidhi scheme) की तीसरी किश्त देश के 1.41 करोड़ किसानों (Farmers) के बैंक अकाउंट (Bank Account ) में पहुंच चुकी है. लेकिन देश के करीब 12 करोड़ किसानों को अब भी 2000 रुपये की अंतिम किश्त नहीं मिली है. बताया गया है कि योजना के पहले चरण की अंतिम किश्त देने में इसलिए देरी हो रही है क्योंकि इसमें किसानों का अच्छी तरह वेरीफिकेशन हो रहा है. जबकि पहली और दूसरी किश्त लोकसभा चुनाव के चक्कर में आनन-फानन में भेजी गई थी. उसमें सिर्फ रजिस्ट्रेशन करवाकर पैसा दे दिया गया था. जिन राज्यों से लाभार्थियों की वेरीफाइड लिस्ट नहीं पहुंची है उनमें पैसा नहीं पहुंचा.

कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) के एक अधिकारी के मुताबिक 18 सितंबर तक सबसे ज्यादा 39 लाख रुपये यूपी को भेजे गए हैं. केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी (Kailash Choudhary) का कहना है कि किसान सम्मान निधि योजना का पैसा जैसे- जैसे राज्यों से लिस्ट आ रही है उसके हिसाब से जा रहा है. सभी राज्यों के किसानों को योजना का लाभ मिलेगा. इस स्कीम के तहत सालाना 6-6 हजार रुपये पाने से किसानों की स्थिति बेहतर होगी.

PM Kisan Samman Nidhi Yojana List 2019 Now in 14 state not single farmer received 3rd installment yet dlop

...तो यहां करें शिकायत

अगर आपको तीसरी किश्त नहीं मिली है तो सबसे पहले अपने रेवेन्यू अधिकारी (लेखपाल) और क्षेत्र के कृषि अधिकारी से बात करें. वहां से भी सुनवाई न हो तो केंद्रीय कृषि मंत्रालय के किसान हेल्प डेस्क (PM-KISAN Help Desk) को ई-मेल Email (pmkisan-ict@gov.in) करें. बात न बने तो इस सेल के नंबर 011-23381092 (Direct HelpLine) पर फोन करके अपनी समस्या बता दें. यही नहीं इस योजना के वेलफेयर सेक्शन (Farmer's Welfare Section) में संपर्क कर सकते हैं. दिल्ली में इसका फोन नंबर है 011-23382401, जबकि ई-मेल आईडी (pmkisan-hqrs@gov.in) है.

इन प्रदेशों में नहीं पहुंची अंतिम किश्त

Loading...

जिन प्रदेशों के किसानों को अब तक तीसरी किश्त नहीं मिली है उनमें अंडमान एंड निकोबार दीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, दादर एवं नागर हवेली, दिल्ली, गोवा, लक्षदीव, मध्य प्रदेश, ओडिशा, मेघालय, पुडुचेरी, पंजाब, सिक्किम और पश्चिम बंगाल शामिल हैं. इसकी बड़ी वजह इन प्रदेशों से लाभार्थी किसानों का वेरिफिकेशन न होना बताया जा रहा है.



कुछ किसानों पर शर्तें लागू-

केंद्र सरकार ने सभी किसानों के लिए स्कीम लागू कर दी है फिर भी कुछ शर्तें लागू हैं.
>> एमपी, एमएलए, मंत्री और मेयर को भी लाभ नहीं दिया जाएगा, भले ही वो किसानी भी करते हों.
>> केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं.
>> पेशेवर, डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, जो कहीं खेती भी करता हो उसे लाभ नहीं मिलेगा.
>> पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले इस लाभ से वंचित होंगे.
>> हालांकि, केंद्र और राज्य सरकार के मल्टी टास्किंग स्टाफ/चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों लाभ मिलेगा.

ये भी पढ़ें:

विधानसभा चुनाव से पहले हरियाणा, झारखंड ने किसानों के लिए खोला खजाना!
इस तरह के सेब से हो जाईए सावधान, उपभोक्ता मामलों के मंत्री ने बताई आपबीती!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 20, 2019, 3:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...