PM-Kisan Scheme: एक स्पेलिंग ने किसानों के डुबोए 4200 करोड़ रुपये! जानिए, कैसे ठीक होगी गलती

PM-Kisan Scheme: एक स्पेलिंग ने किसानों के डुबोए 4200 करोड़ रुपये! जानिए, कैसे ठीक होगी गलती
योजना शुरू होने के 17 माह बाद भी 14.5 करोड़ लोगों को लाभ नहीं दे सकी है सरकार

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम: इस गलती की वजह से नहीं मिल रहे 6000 रुपये सालाना, ऐसे ठीक करें और पाएं लाभ

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. क्या आपको यह अनुमान है कि एक स्पेलिंग की गलती 70 लाख किसानों पर इतनी भारी पड़ेगी. बिल्कुल ऐसा ही हुआ है. कागजों में हुई इस गड़बड़ी से किसानों को करीब 4200 करोड़ रुपये की सहायता का नुकसान हो गया है. जब तक यह गलती ठीक नहीं होगी तब तक अब इतनी बड़ी संख्या में किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme) का पैसा नहीं मिल पाएगा.

कहां हुई गलती?

पीएम किसान स्कीम के आवेदनकर्ताओं के नाम और बैंक अकाउंट नंबर में गड़बड़ी है. बैंक अकाउंट और अन्य कागजातों में नाम की स्पेलिंग भिन्न है. जिसकी वजह से स्कीम का ऑटोमेटिक सिस्टम उसे पास नहीं करता. पीएम किसान स्कीम के सीईओ विवेक अग्रवाल ने न्यूज18 से बातचीत में बताया कि ‘ऐसी गड़बड़ी करने वाले आवेदक किसानों की संख्या करीब 70 लाख है. जबकि करीब 60 लाख लोगों के आधार (Aadhaar card) में गड़बड़ी है.’



वेरीफिकशन के लिए पेंडिंग हैं सवा करोड़ केस



मतलब स्कीम के पैसे के लिए अप्लाई करने के बावजूद देश भर के करीब 1.3 करोड़ किसान सालाना 6000 रुपये के लाभ से वंचित हैं. कई जिले ऐसे हैं जहां पर सवा-सवा लाख किसानों का डेटा वेरीफिकेशन के लिए पेंडिंग है. जब राज्य सरकार किसान के डाटा को वेरीफाई करके केंद्र को भेजती है तब जाकर किसान को पैसा मिलता है.

Pradhan mantri kisan samman nidhi scheme, Pm kisan Status check, Pm Kisan Online Registration And Correction, New Farmer Registration Form, PM Kisan status, How to register in pm kisan scheme, Aadhaar correction, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, पीएम किसान स्टेटस, पीएम किसान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और सुधार, नया किसान पंजीकरण फॉर्म, पीएम किसान स्कीम में रजिस्ट्रेशन कैसे करें, आधार सुधार
मोदी सरकार की सबसे बड़ी किसान स्कीम


9.68 करोड़ किसानों को लाभ मिला

पीएम किसान स्कीम के का बजट 75 हजार करोड़ रुपये का है. मोदी सरकार सालाना 14.5 करोड़ लोगों को पैसा देना चाहती है. लेकिन लाभ अभी 9.68 करोड़ किसानों को ही मिल सका है. इसके कुल जबकि स्कीम शुरू हुए 17 माह बीत चुके हैं.  ज्यादा से ज्यादा किसान रजिस्ट्रेशन करवाएं इसके लिए पीएम किसान स्कीम में खुद रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा दे दी गई है.

कैसे ठीक होगी गलती?

-सबसे पहले PM-Kisan Scheme की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं. इसके फार्मर कॉर्नर के अंदर जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करें.

-आपको यहां पर अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा. इसके बाद एक कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें. जैसा कि नीचे दिखाया गया है.

-अगर आपका केवल नाम गलत होता है यानी कि अप्लीकेशन और आधार में जो आपका नाम है दोनों अलग-अलग है तो आप इसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं. अगर कोई और गलती है तो इसे आप अपने लेखपाल और कृषि विभाग कार्यालय में संपर्क करें.

ये भी पढ़ें: एक रुपये किलो से भी कम कीमत पर प्याज बेचने को मजबूर हैं किसान, इस तरह सरकार कैसे डबल कर पाएगी इनकम? 


KCC: किसान क्रेडिट कार्ड पर सरकार का बड़ा फैसला, लोन पर 31 मई तक लगेगा सिर्फ इतना ब्याज
First published: May 25, 2020, 9:40 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading