प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम: क्या किसानों को 6000 रुपये से ज्यादा मदद देगी मोदी सरकार?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम: क्या किसानों को 6000 रुपये से ज्यादा मदद देगी मोदी सरकार?
पीएम किसान योजना में 10 करोड़ 58 लाख किसानों का रजिस्ट्रेशन

पीएम किसान स्कीम का पैसा बढ़ाने के सवाल पर मोदी सरकार का बड़ा बयान, कृषि विशेषज्ञ कर रहे हैं 24,000 रुपये करने की मांग

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2020, 7:49 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. किसान नेताओं और कृषि विशेषज्ञों की मांग के बावजूद प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri kisan Samman Nidhi Scheme) का पैसा नहीं बढ़ेगी. मोदी सरकार ने लोकसभा में इस बात को स्पष्ट कर दिया है. सांसद मलूक नागर के एक लिखित सवाल के जवाब केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि इस योजना के लाभार्थियों को दी जाने वाली राशि में वृद्धि का कोई प्रस्ताव नहीं है. मतलब साफ है कि फिलहाल इसके तहत सालाना 6000 रुपये ही मिलेंगे. कई विशेषज्ञ इसे 24 हजार रुपये करने की मांग कर रहे हैं. ताकि किसानों की स्थिति में सुधार हो सके.

मोदी सरकार (Modi Government) ने किसानों के लिए जितनी स्कीमें शुरू की हैं, उनमें से सबसे कारगर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ही है. क्योंकि इसमें भ्रष्टाचार की गुंजाइश नहीं है. आजादी के बाद पहली बार किसानों (Farmers) के बैंक अकाउंट में सीधे पैसा भेजा जा रहा है. इसमें से कोई अधिकारी और नेता पैसा खा नहीं पा रहा है. इसलिए अब कृषि विशेषज्ञों यह रकम और बढ़ाने की मांग कर रहे हैं ताकि अन्नदाताओं की स्थिति में सुधार आ सके. कृषि विशेषज्ञों का मानना है किसानों को सीधे पैसा देना ज्यादा फायदेमंद है, वरना अधिकारी और नेता रजिस्टरों में ही पैसा सफाचट कर जाते हैं.

 Pradhan Mantri kisan Samman Nidhi Scheme, narendra modi government, 6000 rupees yojana, farmers news, SBI-state bank of india, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, नरेंद्र मोदी सरकार, 6000 रुपये वाली योजना, किसान समाचार, भारतीय स्टेट बैंक
पीएम किसान स्कीम में किसानों को डायरेक्ट उनके अकाउंट में पैसा मिलता है




इसे भी पढ़ें: पानी से भी कम दाम पर बिक रहा गाय का दूध 
पीएम किसान योजना का फसल हानि से कोई संबंध नहीं

तोमर का कहना है कि योजना का कृषि को प्रभावित करने वाले या फसल हानि से संबंधित कारणों से कोई संबंध नहीं है. यह योजना किसानों को आय समर्थन प्रदान करती है. दरअसल, सांसद ने पूछा था कि कोविड-19 (Covid-19) और लॉकडाउन में हुए फसल नुकसान को देखते हुए क्या सरकार यह रकम बढ़ा सकती है. बता दें कि 2016 के इकोनॉमिक सर्वे के अनुसार देश के 17 राज्यों में किसानों की सालाना आय सिर्फ 20 हजार रुपये है. इनकी आय बढ़ानी है तो सीधे दी जाने वाली सहायता की रकम को बढ़ाना होगा. कोरोना काल में किसानों की स्थिति और खराब हो गई है.

पीएम किसान की रकम पर सुझाव और मांग

>>पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री सोमपाल शास्त्री (Sompal Shastri) का कहना है कि देश में 86 फीसदी लघु एवं सीमांत किसान हैं. उन्हें 20 हजार रूपये एकड़, उससे बड़े वालों को 15 हजार रुपये एकड़ और 10 हेक्टेयर से अधिक खेती वालों को 10 हजार रुपये प्रति एकड़ सरकारी मदद दी जाए. इससे किसानों की स्थिति में सुधार आ सकता है.

>>कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन (MS Swaminathan) की अगुवाई वाले स्वामीनाथन फाउंडेशन ने पीएम किसान योजना के तहत दी जाने वाली रकम को 6000 रुपये से बढ़ाकर 15,000 रुपये सालाना करने का सुझाव दिया है.

 Pradhan Mantri kisan Samman Nidhi Scheme, narendra modi government, 6000 rupees yojana, farmers news, SBI-state bank of india, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, नरेंद्र मोदी सरकार, 6000 रुपये वाली योजना, किसान समाचार, भारतीय स्टेट बैंक
पीएम किसान से जुड़ने के बाद आसान हुआ केसीसी बनवाना


>>किसान शक्ति संघ के अध्यक्ष पुष्पेंद्र सिंह भी इसे हर माह 2000 रुपये करने की मांग कर रहे हैं.

>>पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने पीएम किसान स्कीम के तहत सालाना 12000 रुपये देने का सुझाव दिया है.

इसे भी पढ़ें: सरकार और विपक्ष दोनों के लिए क्यों इतने अहम हैं किसान?

>>स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के ग्रुप चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर डॉ. सौम्य कांति घोष ने अपने एक रिसर्च पेपर में कहा है कि PM-KISAN की रकम को अगले पांच साल के लिए 6000 रुपये सालाना से बढ़ाकर 8000 रुपये करना चाहिए. यह मार्केट में फील गुड फैक्टर और उत्साह बढ़ाएगा.

>>राष्ट्रीय किसान महासंघ के संस्थापक सदस्य और कृषि मामलों के जानकार विनोद आनंद ने किसानों को सालाना 24 हजार रुपये देने की मांग की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading