महिलाओं के बैंक खातों में सरकार जमा कर रही है 2.20 लाख रुपये? जानिए हकीकत

पीआईबी ने बताया कि यह वायल मैसेज फर्जी है. (फोटो सौजन्य से सोशल मीडिया)
पीआईबी ने बताया कि यह वायल मैसेज फर्जी है. (फोटो सौजन्य से सोशल मीडिया)

केंद्र सरकार कोई भी प्रधानमंत्री नारी शक्ति योजना (Pradhan Mantri Mahila Shakti Kendra Yojana) नहीं चलाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2020, 11:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वीडियो प्लेटफार्म यू-ट्यूब पर इन दिनों एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार सभी महिलाओं के बैंक खातों में 'प्रधानमंत्री नारी शक्ति योजना' के तहत 2 लाख 20 हजार रुपये जमा करा रही है. यदि इसी तरह का कोई मैसेज आपके पास आया है, तो आपको सावधान हो जाना चाहिए. केंद्र सरकार के अधिकारिक टि्वटर हैंडल पीआईबी (प्रेस सूचना ब्यूरो) फैक्ट चेक ने जब इस दावे और वायरल वीडियो की जांच की तो सच सामने आया. पीआईबी ने बताया कि यह वायल मैसेज फर्जी है.

PIB फैक्ट चेक में सच आया सामने- आपको बता दें कि पीआईबी फैक्ट चेक टि्वटर हैंडल के जरिए सोशल मीडिया पर वायरल फर्जी खबरों का अक्सर सच सामने लाती है और आम लोगों को जागरूक करती है. इसी तरह इस वीडियो के पड़ताल में पता चला कि केंद्र सरकार ने इस तरह की कोई योजना नहीं शुरू की है.


यह भी पढ़ें: अब इस बैंक में अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेगी सरकार, जानिए क्या होगा ग्राहकों पर असर





PIB ने बताई काम की बात- PIB का कहना है कि यदि आपके पास कोई वायरल संदेश आता है और उसमें किसी लिंक पर क्लिक करने के लिए कहा जाए. तो एक बार पहले उस मैसेज की विश्वसनीयता परख लें उस पर तुरंत भरोसा न करें. पीआईबी के अनुसार यदि आपने किसी फर्जी संदेश पर भूलकर भी क्लिक कर दिया तो आपके साथ ऑनलाइन फ्रॉड हो सकता है.

यह भी पढ़ें: सरकार का बड़ा फैसला: रेफ्रिजरेंट्स के साथ AC के आयात पर लगाया बैन, जानिए क्यों?

समझिए क्या है पीआईबी फैक्ट चेक- पीआईबी फैक्ट चेक केन्द्र सरकार की पॉलिसी/स्कीम्स/विभाग/मंत्रालयों को लेकर गलत सूचना को फैलने से रोकने के लिए काम करता है. सरकार से जुड़ी कोई खबर सच है या झूठ, यह जानने के लिए PIB Fact Check की मदद ली जा सकती है. कोई भी पीआईबी फैक्ट चेक को संदेहात्मक खबर का स्क्रीनशॉट, ट्वीट, फेसबुक पोस्ट या URL वॉट्सएप नंबर 918799711259 पर भेज सकता है या फिर pibfactcheck@gmail.com पर मेल कर सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज