15 हजार कमाने वाले को सरकार हर साल देगी 36 हजार, जानिए स्कीम के बारे में सबकुछ

15 हजार कमाने वाले को सरकार हर साल देगी 36 हजार, जानिए स्कीम के बारे में सबकुछ
660 रु सालाना जमा पर सरकार हर साल देती है 36 हजार

सरकार ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (Shram Yogi Maandhan Yojana) के तहत कम आय वर्ग वालों के लिए पेंशन का इंतजाम किया है. इस स्कीम के तहत 60 साल के बाद हर महीने 3,000 रुपये पेंशन का प्रावधान है. PM-SYM योजना में ऐसे लोग रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं जिनकी आमदनी 15 हजार रुपए से कम है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 13, 2020, 7:21 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आपकी कमाई 15 हजार रुपये से कम है और आपने अब तक रिटायरमेंट बाद के लिए कोई प्लानिंग नहीं, तो चिंता करने की जरूरत नहीं है. मोदी सरकार की यह पेंशन स्कीम आपकी मदद कर सकती है. इसमें 60 साल के बाद आपको हर महीने 3,000 रुपये या सालाना 36 हजार रुपये पेंशन मिलेगी.

इस स्कीम से 18 से 40 साल की उम्र के लोग जुड़ सकते हैं. इस स्कीम का नाम है पीएम श्रम योगी मानधन योजना (Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Yojana, PM-SYM). आइए जानते हैं इसके बारें में विस्तार से...

55 रुपये योगदान से पाएं 3000 पेंशन
इस योजना में अलग-अलग उम्र के हिसाब से 55 रुपये से 200 रुपये मंथली योगदान का प्रावधान है. अगर आप इस योजना से 18 साल की उम्र में जुड़ते हें तो आपको हर महीने 55 रुपये योगदान देना होगा. वहीं, 30 साल वालों को 100 रुपये और 40 साल वालों को 200 रुपये योगदान देना होगा. अगर 18 साल की उम्र लें तो सालाना योगदान 660 रुपये होगा. ऐसा 42 साल करने पर कुल निवेश 27,720 रुपये का होगा. जिसके बाद हर महीने 3,000 रुपये की पेंशन आजीवन मिलेगी. जितना योगदान खाताधारक को होगा, सरकार भी अपनी ओर से उतना ही योगदान करेगी.
कौन खोल सकता है खाता


PM-SYM योजना में असंगठित क्षेत्र के लोग खाता खोल सकते हैं या ऐसे लोग जिनकी आमदनी 15 हजार रुपए से कम है. उम्र सीमा 18 से 40 साल है. अगर आपका EPF/NPS/ESIC खाता पहले से है तो फिर आपका अकाउंट नहीं खुल पाएगा. इनकम टैक्‍सेबल भी नहीं होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें- 1 लाख से अधिक रेहड़ी-पटरी वालों को मोदी सरकार ने दिए 10 हजार, ऐसे करें अप्लाई

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन
प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए पास के CSC सेंटर पर जाना होगा. इसके बाद वहां आधार कार्ड और बचत खाता या जनधन खाता जो भी उसकी जानकारी IFSC कोड के साथ देनी होगी. प्रूफ के तौर पर पासबुक, चेकबुक या बैंक स्टेटमेंटट दिखा सकते हैं. खाता खोलते समय ही आन नॉमिनी भी दर्ज करा सकते हैं.

एक बार आपकी डिटेल कंप्यूटर में दर्ज होने के बाद मंथली कांट्रीब्यूशन की जानकारी खुद मिल जाएगी. इसके बाद आपको अपना शुरूआती योगदान कैश के रूप में देना होगा. इसके बाद आपका खाता खुल जाएगा और श्रम योगी कार्ड मिल जाएगा. आप इस योजना की जानकारी 1800 267 6888 टोल फ्री नंबर पर ले सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज