Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY)-उज्ज्वला योजना में ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन, फ्री में पाएं रसोई गैस सिलेंडर

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY)-उज्ज्वला योजना में ऐसे कराएं रजिस्ट्रेशन, फ्री में पाएं रसोई गैस सिलेंडर
उज्ज्वला योजना में अप्लाई करने का तरीका है आसाना

उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana) के तहत जब आप एलपीजी कनेक्शन लेते हैं तो कुल लागत स्टोव के साथ 3,200 रुपए होती है. इसमें 1,600 रुपए की सब्सिडी सीधे तौर पर सरकार की ओर से दी जाती है और बाकी 1,600 रुपए की रकम तेल कंपनियां देती हैं,

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संकट (Coronavirus Crisis) के बीच मोदी सरकार ने देश के गरीब परिवारों को मुफ्त में रसोई गैस सिलेंडर (LPG Cylinder) उपलब्ध कराने की योजना और तीन माह के लिए बढ़ा दी है. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana- PMUY) के तहत जिन्होंने तीसरा सिलेंडर नहीं लिया है, वह सितंबर तक इसे मुफ्ते सकते हैं. ऐसे में अगर आप गरीब परिवार से हैं और अभी तक इस योजना का लाभ नहीं लिया है तो इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

उज्ज्वला योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना बेहद आसान है. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत, गैस कनेक्शन लेने के लिए BPL परिवार की कोई महिला आवेदन कर सकती है. आप खुद इस योजना से जुड़ी आधिकारिक वेबसाइट pmujjwalayojana.com पर जाकर विस्तृत जानकारी ले सकते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने PMUY को 1 मई 2016 को शुरू किया था.

ऐसे कर सकते हैं अप्लाई
Pradhan Mantri Ujjwala Yojana के लिए आपको एक आवेदन पत्र भरकर नजदीकी एलपीजी वितरक के पास जमा करवाना होगा. आवेदन पत्र के साथ महिला को अपना पूरा पता, जनधन बैंक खाता और परिवार के सभी सदस्यों का आधार नंबर भी देना होगा. इस आवेदन को प्रोसेस करने के बाद देश की ऑयल मार्केटिंग कंपनियां योग्य लाभार्थी को एलपीजी कनेक्शन जारी करती हैं. अगर कोई उपभोक्ता ईएमआई का विकल्प चुनता है तो ईएमआई की राशि सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी में एडस्जस्ट की जाती है.
यह भी पढ़ें- सरकार ने नौकरी करने वालों को दी बड़ी राहत, प्रोविडेंट फंड से पैसे निकालने पर नहीं मांगे जाएंगे ये डॉक्युमेंट



बता दें कि उज्ज्वला योजना के तहत जब आप एलपीजी कनेक्शन लेते हैं तो कुल लागत स्टोव के साथ 3,200 रुपए होती है. इसमें 1,600 रुपए की सब्सिडी सीधे तौर पर सरकार की ओर से दी जाती है और बाकी 1,600 रुपए की रकम तेल कंपनियां देती हैं, लेकिन ग्राहकों को EMI के रूप में ये 1,600 रुपए की राशि तेल कंपनियों को चुकाना होता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading