Home /News /business /

Ujjwala Yojana: एक करोड़ से अधिक लोगों ने छोड़ी LPG Subsidy, जानिए कितने लाख लोगों को मिला रोजगार

Ujjwala Yojana: एक करोड़ से अधिक लोगों ने छोड़ी LPG Subsidy, जानिए कितने लाख लोगों को मिला रोजगार

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के निदेशक राकेश मिश्री का कहना है कि एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने खुद आगे आकर एलपीजी पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ दी.

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के निदेशक राकेश मिश्री का कहना है कि एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने खुद आगे आकर एलपीजी पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ दी.

One Lakh Jobs Provided Under PMUY : केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री ने कहा कि योजना के लागू होने से रसोई गैस यानी एलपीजी वितरण प्रणाली (LPG distribution system) के जरिये एक लाख लोगों को रोजगार मिला है.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana- PMUY) के लागू होने के बाद से देश के करीब एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी (LPG Subsidy) छोड़ी है. केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री रामेश्वर तेली (Minister of State for Petroleum and Natural Gas, Rameshwar Teli) ने कहा कि योजना के लागू होने से रसोई गैस यानी एलपीजी वितरण प्रणाली (LPG distribution system) के जरिये एक लाख लोगों को रोजगार मिला है.

एक वेबिनार में उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल में एलपीजी की पहुंच 61.9 फीसदी से बढ़कर करीब 100 फीसदी पहुंच गई है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (Pradhan Mantri Garib Kalyan Package) के हिस्से के रूप में महामारी के दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 14 करोड़ से अधिक भरे सिलेंडर मुफ्त में दिए गए.

ये भी पढ़ें- Russia-Ukraine Crisis : युद्ध के कारण 60,000 पार करेगा Gold! जानिए 31 मार्च तक सोने में कितना मिलेगा मुनाफा?

सब्सिडी छोड़ने का जरूरतमंदों को मिला लाभ
वेबिनार में हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के निदेशक राकेश मिश्री का कहना है कि एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने खुद आगे आकर एलपीजी पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ दी. इसका लाभ जरूरतमंदों को मिला है. उज्ज्वला योजना को घर-घर तक पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री एलपीजी पंचायतों का आयोजन किया गया है. वेबिनार में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय में सचिव पंकज जैन, तेल विपणन कंपनियों के प्रतिनिधि, वितरक और सिलेंडर उत्पादक शामिल हुए.

ये भी पढ़ें- Home loan : होम लोन पर दे रहे हैं ज्यादा ब्याज तो कैसे घटाएं EMI का बोझ? समझें पूरा कैलकुलेशन

घर-घर पहुंचाने के लिए साझा प्रयास जरूरी
पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सचिव पंकज जैन ने कहा कि योजना को घर-घर तक ले जाने के लिए साझे प्रयास करने की आवश्यकता है. योजना को प्रभावशाली बनाने में स्वयं सहायता समूहों को शामिल करने, सिलेंडर के पुनः रिफिल हेतु सूक्ष्म वित्त के रूप में काम करने वाले एलपीजी बैंक का निर्माण, सूक्ष्म वितरकों का नेटवर्क स्थापित करने के साथ रिफिल के लिए उपभोक्ताओं को आकर्षित करने हेतु मौजूदा सामाजिक नेटवर्क तथा संस्थागत ज्ञान का लाभ उठाने पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए.

गरीबों तक बढ़ी पहुंच
भारत पेट्रोलियम के कायर्कारी निदेशक (एलपीजी) संतोष कुमार ने बताया कि इस योजना से पहले एलपीजी कनेक्शन को शहरी उत्पाद अर्थात शहरों व कस्बों में रहने वाले लोगों के लिए खाना पकाने का ईंधन माना जाता था. अब इसकी पहुंच ग्रामीण इलाकों तक हो गई है. यह सुविधा गांवों में रहने वाले गरीबों को भी आसानी से उपलब्ध हो जाती है.

Tags: LPG, Pradhan Mantri Ujjwala Yojana

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर