होम /न्यूज /व्यवसाय /महिला एंटरप्रेन्योर्स को इंडस्‍ट्री से जोड़ेगा स्‍टार्टअप प्‍लेटफॉर्म herSTART, राष्‍ट्रपति ने किया लॉन्‍च

महिला एंटरप्रेन्योर्स को इंडस्‍ट्री से जोड़ेगा स्‍टार्टअप प्‍लेटफॉर्म herSTART, राष्‍ट्रपति ने किया लॉन्‍च

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मंगलवार को herStart को लॉन्‍च किया.

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मंगलवार को herStart को लॉन्‍च किया.

महिला उद्यमियों के लिए अहमदाबाद स्थित गुजरात यूनिवर्सिटी ने हर स्‍टार्ट (herSTART) नाम से एक स्‍टार्टअप प्‍लेटफॉर्म बना ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भारत में महिलाओं द्वारा शुरू किए जाने वाले स्‍टार्टअप की संख्‍या बढ़ रही है.
सरकार भी स्‍टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं चला रही है.
एक रिपोर्ट के मुताबिक, महिलाएं अपना काम शुरू करने में पुरुषों से आगे है.

नई दिल्‍ली. राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Droupadi Murmu) ने मंगलवार, 4 अक्‍टूबर, को अहमदाबाद में महिला उद्यमियों के लिए गुजरात यूनिवर्सिटी द्वारा बनाए गए स्‍टार्टअप मंच हर स्‍टार्ट (herSTART) को लॉन्‍च किया. इस स्‍टार्टअप मंच से महिला एंटरप्रेन्योर्स को अपना काम शुरू करने में सहायता तो मिलेगी ही, साथ ही यह प्‍लेटफॉर्म सरकारी और प्राइवेट एंटरप्राइजेज से महिला उद्यमियों को जोड़ने में मदद भी करेगा. राष्‍ट्रपति ने गुजरात यूनिवर्सिटी में ही शिक्षा और आदिवासी विकास से जुड़े प्रोजेक्‍ट्स का शिलान्‍यास और नींव पत्‍थर भी रखे.

गुजरात में आज राष्‍ट्रपति का यह दूसरा दिन है. राष्‍ट्रपति बनने के बाद द्रौपदी मुर्मू पहली बार गुजरात आईं हैं. हर स्‍टार्ट को लॉन्‍च करने के बाद जनसभा को राष्‍ट्रपति ने कहा कि यह स्‍टार्टअप मंच महिला एंटरप्रेन्योर्स के बहुत काम आएगा. यह महिला एंटरप्रेन्योर्स के इनोवेशन और स्‍टार्टअप प्रयासों को नई ऊंचाई देगा. उन्‍होंने कहा कि हर स्‍टार्ट विभिन्‍न सरकारी और प्राइवेज एंटरप्राइजेज और महिला उद्यमियों के बीच पुल का काम करेगा. राष्‍ट्रपति ने सोमवार को भी गांधीनगर में एक समारोह में 1,330 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन किया था या नींव रखी. उन्होंने साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को पुष्पांजलि भी अर्पित की थी.

ये भी पढ़ें-  पीएम मोदी की योजना के बाद, Apple iPhone का भारत से बढ़ गया निर्यात

अपना काम शुरू करने में महिलाएं आगे
भारतीय महिलाएं अपना कारोबार शुरू करने के मामले में पुरुषों से आगे हैं. विश्व आर्थिक मंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्टार्टअप की महिला संस्थापकों का हिस्सा 2016 से 2021 के बीच 2.68 गुना बढ़ा है. इसके मुकाबले पुरुष फाउंडर्स की हिस्सेदारी सिर्फ 1.79 गुना ही बढ़ी. रिपोर्ट के अनुसार, महिला उद्यमशीलता की वृद्धि दर 2020 और 2021 में सबसे ज्यादा रही.

ये भी पढ़ें-  मंदी के बादल: क्‍या डूब जाएगा दुनिया के बड़े बैंकों में शुमार क्रेडिट सुइस? रिकॉर्ड हाई से 95% टूटा स्‍टॉक

महिला उद्यमियों की बढ़ती संख्‍या को देखते हुए अब सरकार और कई निजी संस्‍थान भी महिलाओं के व्‍यापार आइडियाज़ को मूर्तरूप देने के लिए कोशिश कर रहे हैं. महिलाएं कारोबार करने के लिए मुद्रा लोन ले सकती हैं. इसके अलावा कई बैंक और अन्‍य वित्‍तीय संस्‍थान भी महिलाओं को आसान शर्तों पर ऋण उपलब्‍ध करा रहे हैं. महिलाओं द्वारा शुरू किए गए कुछ स्‍टार्टअप ने अच्‍छी सफलताएं हासिल की हैं.

Tags: Business news, Business news in hindi, Draupadi murmu, Indian startups

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें