Private Trains: रेलवे को BHEL-L&T समेत 15 कंपनियों की ओर से मिले 120 आवेदन

भारतीय रेलवे को प्राइवेट पैसेंजर ट्रेन के लिए 15 कंपनियों की ओर से 120 आवेदन मिले हैं.
भारतीय रेलवे को प्राइवेट पैसेंजर ट्रेन के लिए 15 कंपनियों की ओर से 120 आवेदन मिले हैं.

भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने प्राइवेट पैसेंजर ट्रेन (Private Passenger Trains) चलाने के लिए मंगाए गए आरएफक्‍यू पर आए आवेदनों को खोल दिया है. रेल मंत्रालय (MoR) ने 12 कलस्‍टर के रूट्स पर 151 मॉडर्न ट्रेनें चलाने के लिए रिक्‍वेस्‍ट फॉर क्‍वालिफिकेशन (RFQ) मंगाए थे. मंत्रालय को उम्‍मीद है कि इससे निजी क्षेत्र की ओर से 30,000 करोड़ रुपये का निवेश (Investment) आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 7:46 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार देश में प्राइवेट पैसेंजर ट्रेनें (Private Passenger Trains) चलाने की कवायद तेजी से आगे बढ़ा रही है. भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने आज प्राइवेट ट्रेन चलाने में दिलचस्‍पी दिखाने वाली 15 कंपनियों की ओर से मिले 120 आवेदनों को खोल दिया है. बता दें कि रेल मंत्रालय (MoR) ने 12 कल्‍सटर के 140 रूट्स पर प्राइवेट पब्लिक पार्टनरशिप (PPP) के तहत 151 प्राइवेट मॉडर्न ट्रेनें चलाने के लिए 1 जुलाई 2020 को रिक्‍वेस्‍ट फॉर क्‍वालिफिकेशन (RFQ) मंगाए थे. सरकार को उम्‍मीद है कि इससे रेलवे में 30,000 करोड़ रुपये का निजी निवेश आएगा.

आईआरसीटीसी ने भी प्राइवेट ट्रेन चलाने की जताई इच्‍छा
प्राइवेट ट्रेनें चलाने में भेल, लार्सन एंड टुब्रो के अलावा आईआरसीटीसी लिमिटेड ने भी रुचि दिखाई है. प्राइवेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए कंपनियों का चुनाव दो-स्तरीय प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया से किया जाएगा. इसमें आरएफक्‍यू और रिक्‍वेस्‍ट फॉर प्रपोजल (RFP) हैं. रेलवे ने बताया कि एप्‍लीकेशन का आकलन और मूल्‍यांकन जल्‍द से जल्‍द किया जाएगा. इसके बाद नवंबर 2020 तक क्‍वालीफाइड कंपनियों के लिए आरएफक्यू डॉक्यूमेंट्स उपलब्ध करा दिए जाएंगे. रेलवे का फरवरी, 2021 तक इस प्रक्रिया को पूरा करने का लक्ष्य है.

ये भी पढ़ें- नवरात्रि से पहले पटरी पर लौटेगी नई दिल्‍ली से कटरा जाने वाली वंदेभारत, जल्‍द चलेंगी 39 नई स्पेशल ट्रेनें
कंपनियों को किराया तय करने की छूट देगी केंद्र सरकार


रेलेव ने निजी ट्रेनें चलाने के लिए 12 क्‍लस्‍टर में मुंबई-1 व मुंबई-2, दिल्ली-1 व दिल्ली-2, चंडीगढ़, हावड़ा, पटना, प्रयागराज, सिकंदराबाद, जयपुर, चेन्‍नई और बेंगलुरु को शामिल किया है. केंद्र सरकार की ओर से हाल में कहा गया था कि प्राइवेट ट्रेन को आपरेट करने वाली कंपनियों को किराया तय करने की छूट दी जाएगी. भारतीय रेलवे ने बताया था कि प्राइवेट कंपनियों को अपनी तरफ से किराया तय करने की छूट होगी. हालांकि, उन रूट पर अगर एसी बसें और प्लेन सुविधा है तो किराया तय करने से पहले कंपनियों को काफी ध्यान रखना होगा.

ये भी पढ़ें- कहीं आपने भी तो नहीं किया बैंक अकाउंट में ये काम! आ सकता है इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट का नोटिस

आईजीएम समेत इन प्राइवेट कंपनियों ने दिखाई है दिलचस्पी
1 Arvind Aviation
2 BHEL
3 Construcciones y Auxiliar de Ferrocarrriles, S.A
4 Cube Highways and Infrastructure III Pvt Ltd
5 Gateway Rail freight Limited
6 GMR Highways Limited
7 Indian Railway Catering and Tourism Corporation LImited
8 IRB Infrastructure Developers Limited
9 L&T Infrastructure Development Projects Limited
10 Malempati Power Private Limited
11 Megha Engineering and Infrastructures Limited
12 PNC Infratech Ltd
13 RK Associates and Hoteliers Pvt Ltd
14 Sainath sales and Services Pvt Ltd
15 Welspun Enterprises Limited
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज