यहां जमा करते हैं बचत तो 31 जुलाई से पहले पूरा कर लें ये काम, टैक्स सेविंग में भी मिलेगी मदद

यहां जमा करते हैं बचत तो 31 जुलाई से पहले पूरा कर लें ये काम, टैक्स सेविंग में भी मिलेगी मदद
2019-20 के लिए PPF डिपॉजिट में निवेश की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2020 है.

केंद्र सरकार ने PPF और सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) जैसी छोटी बचत योजनाओं में निवेश के लिए कुछ छूट दी है. इसकी अंतिम तारीख 31 जुलाई है और इसे आगे बढ़ाने के बारे में अभी कोई जानकारी सामने नही आई. इनमें निवेश से इनकम टैक्स बचत (Tax Savings) करने में भी मिलेगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप भी अपने या बच्चों के भविष्य को वित्तीय रूप से सुरक्षित करना चाहते हैं तो आपके लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) या सुकन्या समृद्धि योजना (SSY - Sukanya Samriddhi Yojna) एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है. सबसे खास बात है कि अगर आप 31 जुलाई से पहले इनमें निवेश करते हैं तो केंद्र सरकार द्वारा दिए गए खास छूट का लाभ भी उठा सकते हैं. दरअसल, सरकार ने इन अकाउंट्स को खोलने के लिए डिपॉजिट व एक्सटेंशन को लेकर कुछ छूट का ऐलान किया है.

कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर केंद्र सरकार ने इस लाभ को 31 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया था. हालांकि, अभी तक इसे और आगे बढ़ाने के बारे में सरकार ने कोई जानकारी नहीं दी है. ऐसे में अगर आप इन विकल्पों में निवेश कर भविष्य के लिए बचत करना चाहते हैं तो यह काम 31 जुलाई से पहले कर लेना चाहिए.

पीपीएफ डिपॉजिटी की अंतिम तरीख



केंद्र सरकार ने पीपीएफ सब्सक्राइबर्स (PPF Subscribers) के लिए 31 जुलाई तक डिपॉजिट करने की छूट दी है. यह वित्त वर्ष 2019-20 के लिए है. लेकिन, पहले की तरह ही इस निवेश की लिमिट अधिकतम 1.5 लाख रुपये की ही होगी. सरकार के इस कदम उन अकाउंटहोल्डर्स को लाभ मिल सकेगा, जिन्होंने लॉकडाउन की वजह से अपने अकाउंट को में कोई डिपॉजिट नहीं किया था. लेकिन, अब उनके पास इस डिपॉजिट की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2020 तक है.
यह भी पढ़ें: अब गरीबों को मिलेगा आसानी से Loan, सरकार ने बताया तरीका शुरू की ये खास सर्विस

खोलें बिटिया का खाता
डिपॉजिट अवधि बढ़ाने के अलावा केंद्र सरकार ने कुछ अन्य राहत भी दी है. 31 जुलाई तक सरकार ने कोरोनोवायरस लॉकडाउन के कारण सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) खाते खोलने के लिए पात्रता मानदंडों में कुछ छूट की भी घोषणा की थी. सुकन्या समृद्धि खाता 31 जुलाई, 2020 को या उससे पहले उन बेटियों के नाम से खोला जा सकता है, जिनकी उम्र 25 मार्च, 2020 से 30 जून, 2020 तक लॉकडाउन की अवधि के दौरान 10 वर्ष पूरी हो चुकी है.

कितना मिल रहा ब्याज?
सुकन्या समृद्धि योजना में इस समय 7.6 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है. इस योजना में खाता खुलवाते समय जो ब्याज दर रहती है, उसी दर से पूरे निवेश काल के दौरान ब्याज मिलता है. सरकार ने पोस्‍ट ऑफिस सेविंग अकाउंट (PO Saving Schemes) समेत सभी स्‍मॉल सेविंग स्‍कीम (Small Saving Schemes) में किए गए निवेश पर जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए मिलने वाले ब्‍याज की दरों में कोई बदलाव नहीं (Interest Rates Unchanged) किया है.

मैच्योरिटी पर मिलेंगे 64 लाख रुपए
मौजूदा ब्याज दर के हिसाब से अगर हर वित्तीय वर्ष में 1.5 लाख रुपये 15 साल तक जमा किया जाता है तो इस पर आपके द्वारा जमा किया गया कुल रकम 22,50,000 रुपए होगा और इस पर ब्याज 41,36,543 रुपए बनेगा. हालांकि, यह अकाउंट 21 साल पूरे होने के बाद मैच्योर होगा. ऐसे में अकांउट पर जमा किए गए रकम पर ब्याज मिलता रहेगा. 21 साल तक यह रकम ब्याज के साथ बढ़कर करीब 64 लाख रुपए हो जाएगा. आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि सुकन्या समृद्धि योजना पर मिलने वाला ब्याज केंद्र सरकार हर तिमाही में तय करती है. ऐसे में मैच्योरिटी तक ब्याज दर में कई बार बदलाव हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: ई-कॉमर्स कंपनियों को बताना होगा कहां बना है प्रोडक्ट!SC ने सरकार से मांगा जवाब

इनकम टैक्स बचत में भी मिलेगी राहत
इनकम टैक्स डिपॉर्टमेंट ने विभिन्न आईटी एक्ट के लिए इन्वेस्टमेंट की अवधि को भी 31 जुलाई तक बढ़ाने का ऐलान किया था. इसके बाद ऐसे निवेशक के पास भी मौका है कि वो इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C, 80D (मेडिक्लेम), 80G (डोनेशन) etc, के तहत वित्त वर्ष 2019—20 के लिए निवेश कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading