• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • PNB में हो सकता है आंध्रा बैंक, इलाहाबाद बैंक और OBC का मर्जर, आज शाम वित्त मंत्री कर सकती हैं घोषणा

PNB में हो सकता है आंध्रा बैंक, इलाहाबाद बैंक और OBC का मर्जर, आज शाम वित्त मंत्री कर सकती हैं घोषणा

PNB के साथ हो सकता है आंध्रा बैंक, इलाहाबाद बैंक और OBC का मर्जर, आज शाम वित्त मंत्री कर सकती हैं घोषणा

PNB के साथ हो सकता है आंध्रा बैंक, इलाहाबाद बैंक और OBC का मर्जर, आज शाम वित्त मंत्री कर सकती हैं घोषणा

CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) में विजया बैंक और देना बैंक का विलय पूर्ण होने के बाद बैंकों के विलय के अगले चरण की प्रक्रिया शुरू होने वाली है.

  • Share this:
    बैंकिंग सेक्टर को लेकर बड़ी घोषणा आज शाम 4 बजे हो सकती है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) में विजया बैंक (Vijaya Bank) और देना बैंक (Dena Bank) का विलय पूर्ण होने के बाद बैंकों के विलय के अगले चरण की प्रक्रिया शुरू होने वाली है. अब पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और आंध्रा बैंक के साथ-साथ इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) का विलय हो सकता है. वित्त मंत्री शाम 4 बजे सरकारी बैंकों के विलय को लेकर घोषणा कर सकती हैं.

    आपको बता दें कि पहले स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर ऐंड जयपुर (SBBJ), स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (State Bank of Mysore), स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर (State Bank of Travancore) और दो नॉन-लिस्टेड बैंक स्टेट बैंक ऑफ पटियाला (State Bank Patiyala),  स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (State Bank of Hyderabad) के साथ-साथ भारतीय महिला बैंक (बीएमबी) का स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में विलय कर दिया गया था.



    बैंकों के विलय का असर इन बैंकों के ग्राहकों पर भी होगा...आइए जानें

    (1) ग्राहकों को नया अकाउंट नंबर और कस्टमर आईडी मिल सकता है.

    (2) जिन ग्राहकों को नए अकाउंट नंबर या IFSC कोड मिलेंगे, उन्हें नए डीटेल्स इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, इंश्योरंस कंपनियों, म्यूचुअल फंड, नैशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) आदि में अपडेट करवाने होंगे.

    (3) SIP या लोन EMI के लिए ग्राहकों को नया इंस्ट्रक्शन फॉर्म भरना पड़ सकता है.

    (4) नई चेकबुक, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड इशू हो सकता है.



    (5) फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) या रेकरिंग डिपॉजिट (आरडी) पर मिलने वाले ब्याज में कोई बदलाव नहीं होगा.

    (6) जिन ब्याज दरों पर वीइकल लोन, होम लोन, पर्सनल लोन आदि लिए गए हैं, उनमें कोई बदलाव नहीं होगा.

    (7) कुछ शाखाएं बंद हो सकती हैं, इसलिए ग्राहकों को नई शाखाओं में जाना पड़ सकता है.

    (लक्ष्मण रॉय, इकोनॉमी-पॉलिसी एडिटर, CNBC आवाज़)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज