PNB, इलाहाबाद बैंक के बाद भूषण पावर ने अब इस सरकारी बैंक को लगाया 238 करोड़ का चूना

पंजाब एंड सिंध बैंक ने बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) को भूषण पावर एंड स्टील द्वारा 238 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की सूचना दी.

News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 8:58 PM IST
PNB, इलाहाबाद बैंक के बाद भूषण पावर ने अब इस सरकारी बैंक को लगाया 238 करोड़ का चूना
भूषण पावर ने अब इस सरकारी बैंक को लगाया 238 करोड़ का चूना
News18Hindi
Updated: July 17, 2019, 8:58 PM IST
भूषण पावर एंड स्टील (BPSL) ने पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) के बाद पंजाब एंड सिंध बैंक (PSB) को 238 करोड़ रुपये का चूना लगाया है. पंजाब एंड सिंध बैंक ने बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) को भूषण पावर एंड स्टील द्वारा 238 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की सूचना दी.

इससे पहले, इस महीने PNB और इलाहाबाद बैंक ने भी भूषण पावर एंड स्टील द्वारा क्रमश: 3,805 करोड़ रुपये और 1,774 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की जानकारी दी थी. भूषण पावर एंड स्टील मामले को आरबीआई 2017 में दिवाला अदालत को भेज चुका है

NCLT में चल रहा मामला
पंजाब एंड सिंध बैंक ने एक बयान में कहा कि कंपनी ने बैंक से लिए पैसों का दुरुपयोग किया और कर्जदाताओं के कंसोर्टियम से कर्ज लेने के लिए अपने बही-खातों में हेराफेरी की. वर्तमान में इस कंपनी का मामला नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) में चल रहा है और बैंक को उससे अच्छी-खासी रिकवरी की उम्मीद है. बैंक ने यह भी कहा कि भूषण पावर के खातों को लेकर उसने 189 करोड़ रुपये की प्रोविजनिंग की है.

ये भी पढ़ें: इन दुकानदारों को नहीं मिलेगी 3000 रुपये वाली पेंशन

47,204 करोड़ का कर्ज नहीं लौटाया
सीबीआई की एफआईआर में कंपनी के चेयरमैन संजय सिंघल, उपाध्यक्ष आरती सिंघल सहित अन्य निदेशकों के नाम संदिग्धों में शामिल हैं. सीबीआई ने कहा है, कंपनी ने वर्ष 2007 से 2014 के दौरान 33 बैंकों/वित्तीय संस्थानों से विभिन्न लोन सुविधाओं का लाभ उठाकर लगभग 47,204 करोड़ रुपये का कर्ज उठाया और उसे समय पर नहीं लौटाया. इसके बाद, लीड बैंक पीएनबी ने खाते को एनपीए घोषित कर दिया, जिसके बाद अन्य बैंकों और वित्तीय संस्थानों ने भी इस लोन खाते को एनपीए घोषित कर दिया.
Loading...

ये भी पढ़ें: गरीब रथ ट्रेन को जल्द बंद कर सकती है मोदी सरकार, ये है वजह!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 8:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...