PNB Q3 Results: पंजाब नेशनल बैंक का मुनाफा 506 करोड़ रुपये रहा

एक अप्रैल, 2020 से पीएनबी में यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स का विलय प्रभाव में आया.

एक अप्रैल, 2020 से पीएनबी में यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स का विलय प्रभाव में आया.

सरकारी बैंक पीएनबी (PNB) ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बैंक की कुल आय दिसंबर तिमाही में बढ़कर 23,298.53 करोड़ रुपये रही.

  • Share this:
नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) ने 5 फरवरी को अपने तीसरी तिमाही नतीजे जारी कर दिए. पीएनबी (PNB) का एकल आधार पर शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 506.03 करोड़ रुपये रहा. फंसे कर्ज (NPA) में कमी से बैंक का लाभ बढ़ा है. इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में बैंक को 492.28 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था.

पीएनबी ने शुक्रवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि बैंक की कुल आय दिसंबर तिमाही में बढ़कर 23,298.53 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की तीसरी तिमाही में 15,967.49 करोड़ रुपये था.

ये भी पढ़ें- विदेशी मुद्रा भंडार हुआ मजबूत, सात दिनों में बढ़ा 4.85 अरब डॉलर, जानें कितना है Gold Reserve

एकीकृत आधार पर बैंक का लाभ 2020-21 की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में 585.77 करोड़ रुपये रहा. इससे पूर्व वित्त वर्ष की इसी तिमाही में बैंक को शुद्ध रूप से 501.93 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था. एकीकृत आय आलोच्य तिमाही में 23,639.41 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 16,211.24 करोड़ रुपये थी.
हालांकि पीएनबी ने कहा कि ताजा परिणाम की तुलना 2019-20 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही से नहीं की जा सकती क्योंकि उस समय के आंकड़े विलय के पूर्व के थे. एक अप्रैल, 2020 से पीएनबी में यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स का विलय प्रभाव में आया.

ये भी पढ़ें- 300 करोड़ से ज्यादा ईमेल और पासवर्ड हुए लीक, देखें कहीं आपके अकाउंट में भी तो हैकर्स ने नहीं लगाई सेंध?

पीएनबी की संपत्ति गुणवत्ता बेहतर हुई है. बैंक का कुल फंसा कर्ज (एनपीए) दिसंबर, 2020 को समाप्त तिमाही में सकल कर्ज का 12.99 प्रतिशत रहा जो एक साल पहले इसी तिमाही में 16.30 प्रतिशत था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज