RBI ने PNB के फंसे कर्ज में पाया अंतर, निवेशकों के डूबे 1200 करोड़ रुपये

SBI के बाद PNB के फंसे कर्ज में RBI ने पाया अंतर
SBI के बाद PNB के फंसे कर्ज में RBI ने पाया अंतर

सोमवार को कारोबार के दौरान बीएसई पर PNB का शेयर 3 फीसदी तक टूट गया. शेयर में गिरावट से PNB के निवेशकों को 1,200 करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2019, 11:45 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की जांच में पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के बीते वित्त वर्ष के फंसे कर्ज यानी नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स (NPA) 2,617 करोड़ रुपये ज्यादा पाई गई है. RBI द्वारा पीएनबी के एनपीए में अंतर पाये जाने की वजह से सोमवार को कारोबार के दौरान बीएसई पर PNB का शेयर 3 फीसदी तक टूट गया. शेयर में गिरावट से पीएनबी के निवेशकों को 1,200 करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ.

निवेशकों के डूबे 1,200 करोड़ से ज्यादा
PNB के शेयर में गिरावट से निवेशकों को 1,200 करोड़ रुपये से ज्यादा डूब गए. शुक्रवार को बीएसई पर पीएनबी का शेयर 64.45 रुपये के भाव पर बंद हुआ था. वहीं आज के कारोबार में शेयर 2.79 फीसदी टूटकर 62.65 रुपये के स्तर पर लुढ़क गया. शेयर में गिरावट से पीएनबी का मार्केट कैप 1,212.76 करोड़ रुपये घटकर 42,210.85 करोड़ रुपये हो गया. शुक्रवार के बंद भाव पर बैंक का मार्केट कैप 43,423.61 करोड़ रुपये था.

ये भी पढ़ें: दिल्ली की अवैध कॉलोनियों में रहने वाले 40 लाख परिवारों को तोहफा! जानिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन
जानें क्या है मामला?



प्रोविजंस में भी 2091 करोड़ का अंतर
PNB ने शेयर बाजार को बताया कि केंद्रीय बैंक की ओर से किए आकलन के अनुसार 2018-19 में पीएनबी का सकल एनपीए 81,089.70 करोड़ रुपये था. यह बैंक द्वारा दिखाए गए 78,472.70 करोड़ रुपये के सकल एनपीए से 2,617 करोड़ रुपये अधिक है. इतना ही नहीं, आरबीआई ने शुद्ध एनपीए में भी 2,617 करोड़ रुपये का अंतर पाया है. वहीं, फंसे कर्ज के लिए प्रावधान में 2,091 करोड़ रुपये का अंतर निकला है. बैंक ने कहा कि आरबीआई के आकलन के आधार पर उसे 2018-19 में 11,335.90 का शुद्ध घाटा हुआ होता जबकि बैंक ने 9,975.49 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा दिखाया था.

 

RBI ने पाया इतना अंतर
पीएनबी ने कहा उसने पिछले वित्त वर्ष में 78,472.70 करोड़ रुपये का सकल एनपीए दिखाया जबकि आरबीआई के आकलन के मुताबिक यह आंकड़ा 81,089.70 करोड़ रुपये था. इसी प्रकार, पीएनबी ने बीते वित्त वर्ष में शुद्ध एनपीए 30,037.66 करोड़ रुपये बताया. आरबीआई के मूल्यांकन के हिसाब से शुद्ध एनपीए 32,654.66 करोड़ रुपये था. बैंक ने 2018-19 में फंसे कर्ज के लिए 48151.15 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था लेकिन इसके लिए 50,242.15 करोड़ रुपये का प्रावधान किए जाने की जरूरत थी.

ये भी पढ़ें: 
खुशखबरी! आज से 24 घंटे फ्री में NEFT से भेज सकेंगे पैसा, RBI ने लागू किया ये नियम
25 लाख में शुरू किया था ये बिजनेस, अब साल भर में कमा रही है ₹100 करोड़ से ज्यादा
घर में आप रख सकते हैं कितना सोना? जान लें नियम होगा बड़ा फायदा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज