पेनकिलर मेडिसिन को लेकर ये बड़ी दवा कंपनी दोषी करार, भरना होगा 8.3 अरब डॉलर का जुर्माना

पेनकिलर मेडिसिन OxyContin
पेनकिलर मेडिसिन OxyContin

अमेरिका की दवा बनाने वाली कंपनी पर्ड्यू फार्मा एलपी (Purdue Pharma LP) को दर्द निवारक एक दवा OxyContin की गलत मार्केटिंग के मामले में दोषी करार दिया गया है. कंपनी ने 8.3 अरब डॉलर का जुर्माना देना स्वीकार कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 1:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दर्द निवारक एक दवा की गलत मार्केटिंग के मामले में अमेरिका की दवा बनाने वाली कंपनी पर्ड्यू फार्मा एलपी (Purdue Pharma LP) को दोषी करार दिया गया है. कंपनी ने  8.3 अरब डॉलर का जुर्माना देना स्वीकार कर लिया है. दरअसल, दर्द निवारक दवा OxyContin की लत से opioid महामारी को बढ़ावा मिलने का आरोप है.

अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि कंपनी के मालिक अरबपति सैकलर परिवार के सदस्य न्याय विभाग में निपटारा के लिए 225 मिलियन डॉलर का भुगतान करेंगे. न्यूयॉर्क के बैंकक्रप्सी अदालत में बुधवार को दाखिल एक समझौते के अनुसार, यह समझौता संघीय सरकार की आपराधिक और सिविल जांच का समाधान करता है. हालांकि न्यूयॉर्क और मैसाचुसेट्स सहित राज्यों द्वारा जांच जारी रहेगी.

इस निपटान समझौते से कंपनी को पिछले दावों से आगे बढ़ने में मदद मिलेगी, जिसने OxyContin के मार्केटिंग के साथ सार्वजनिक स्वास्थ्य संकट को जन्म दिया. फिर भी कंपनी को स्थानीय और राज्य के अधिकारियों के हजारों नागरिक दावों का सामना करना पड़ेगा, जिसके लिए पर्ड्यू ने अलग से 10 बिलियन डॉलर का समझौता करेगी. सरकारें पर्ड्यू से भरपाई की मांग कर रही हैं, जिसने इस संकट से निपटने के लिए खर्च किए हैं.



कई दावों का सामना करने के लिए पर्ड्यू फार्मा एलपी ने पिछले साल न्यूयॉर्क के बैंकक्रप्सी अदालत में चैप्टर 11 प्रोटेक्शन के लिए याचिका दायर की थी. पर्ड्यू फार्मा एलपी और न्याय विभाग के साथ समझौते को अंतिम रूप से मंजूरी बैंकक्रप्सी के जज रॉबर्ट ड्रेन देंगे.
पर्ड्यू फार्मा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टीव मिलर ने एक बयान में कहा, "पर्ड्यू को गहरा खेद है और कदाचार के लिए जिम्मेदारी स्वीकार करता है. डीओजे जांच का समाधान हमारी बैंकक्रप्सी प्रक्रिया में एक आवश्यक कदम है. पर्ड्यू के लिए निपटान समझौता बैंकक्रप्सी अदालत में पुनर्गठन की एक योजना प्रस्तुत करने का मार्ग प्रशस्त करेगा, जो पर्ड्यू की सभी संपत्तियों को एक पब्लिक कंपनी को हस्तांतरित कर देगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज