लाइव टीवी

रघुराम राजन बोले- बड़े रिफॉर्म्स के लिए सरकार में दम, उठाने होंगे ज़रूरी कदम

News18Hindi
Updated: October 31, 2019, 5:47 PM IST
रघुराम राजन बोले- बड़े रिफॉर्म्स के लिए सरकार में दम, उठाने होंगे ज़रूरी कदम
आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (फाइल फोटो )

RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) ने कहा है कि बड़े आर्थिक रिफॉर्म्स के लिए राजनीतिक तौर पर सरकार मजबूत है, लेकिन उसने अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 5:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) ने फेड रिजर्व (Fed Reserve) द्वारा अगले बैठक में नीतिगत ब्याज दरों को​ स्थिर रखने के संकेत को सही ठहराया है. गुरुवार को CNBC TV18 से बातचीत में रघुराम राजन ने कहा कि आर्थिक ग्रोथ के लिए भारत में नए जेनरेशन के रिफॉर्म्स की जरूरत है. इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि बैंकिंग सिस्टम (Banking System) को दुरुस्त करने की जरूरत है. भारत के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश में ठोस आर्थिक सुस्ती देखने को मिली है.

अगले जेनरेशन के रिफॉर्म्स की जरूरत
राजन ने कहा, 'भारत को इससे भी तेज ग्रोथ की जरूरत है, लेकिन यह छोटे-छोटे कदमों से नहीं आएगा. इसके लिए अगले जेनरेशन के रिफॉर्म्स की जरूरत है. अच्छी बात ये है कि सरकार में राजनीतिक क्षमता है और इस तरह के रिफॉर्म्स लाने की ताकत है. हालांकि, खराब बात यह भी है कि सरकार ने अभी तक ऐसा कोई कदम नहीं उठाया है.'

ये भी पढ़ें: कभी छोटी सी दुकान से शुरू हुई हल्दीराम, अब 2046 करोड़ में खरीद सकती है इस लग्जरी प्राइवेट सिटी को


उन्होंने आगे कहा, 'राजनीतिक दृष्टिकोण से देखें तो सरकार ने सिस्टम में सफाई शुरू किया था जो कि अब तक चल रहा है. इसे तेजी से पूरा करने की जरूरत है. रिकैपिटलाइजेशन हुआ है, लेकिन अब गैर-बैंकिंग वित्तीय सेक्टर में भी इसकी जरूरत है. अगर आपको तेज ग्रोथ चाहिए तो वित्तीय सिस्टम को दुरुस्त करना ही होगा.'

मंदी से बचने के लिए फेडरल रिजर्व ने पर्याप्त कदम उठाए
Loading...

बुधवार को अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने इस साल लगातार तीसरी बार ब्याज दरों में कटौती किया है, ताकि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में तेजी लाया जा सके. ग्लोबल ट्रेड वॉर की मार झेल रहे अमेरिका को लेकर फेड ने अगली बैठक में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं करने का संकेत दिया है. इसपर राजन ने कहा, 'अब लगता है कि उन्होंने ​मंदी से बचने के लिए पर्याप्त कदम उठा लिया है. उन्होंने यह भी कहा है कि वो अब स्थिति को परख रहे हैं. ऐसे में मौजूदा समय में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं करना ही बेहतर होगा.'

ये भी पढ़ें: लगातार दूसरे दिन 40,000 के पार बंद हुआ सेंसेक्‍स, आपके पास कमाई का मौका

जब उनसे पूछा गया कि क्या फेड रिजर्व पर राजनीतिक दबाव का असर पड़ा है तो उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि सीधे तौर पर उनपर कोई प्रभाव पड़ा है. लेकिन, मैं ये नहीं मान सकता कि उनके दिमाग में ऐसी कोई बात नहीं होगी. जिस तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं, उसे देखकर नहीं लगता कि वे कोई ऐसा कदम उठाएंगे जिससे अमेरिकी अर्थव्यवस्था मंदी की ओर बढ़े.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 5:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...