YES Bank पर बोले रघुराम राजन- RBI जल्द उठाए ये कदम वरना सभी बैंक खो देंगे लोगों का विश्वास

 Lockdown के बाद इकॉनमी को संभालने के लिए भारत को बनना होगा नया प्लान:राजन

Lockdown के बाद इकॉनमी को संभालने के लिए भारत को बनना होगा नया प्लान:राजन

नकदी संकट से जूझ रहे यस बैंक की हालत ठीक करने के आरबीआई के उपायों के बीच रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन का बड़ा बयान सामने आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 10:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नकदी संकट से जूझ रहे यस बैंक की हालत ठीक करने के आरबीआई के उपायों के बीच रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि यस बैंक ने अपनी दिक्कतों के बारे में कई बार सूचित किया था और इन दिक्कतों को दूर करने की योजना बनाने के लिये पर्याप्त संबंध उपलब्ध था. वहीं, यस बैंक के प्रशासक प्रशांत कुमार ने ग्राहकों को जमा राशि को लेकर आश्वस्त करते हुए कहा कि पूंजी जुटाने के लिये भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के साथ ही अन्य निवेशकों के साथ बातचीत चल रही है.



राजन ने सीएनबीसी-टीवी 18 को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि यस बैंक ने हमें पर्याप्त मौकों पर बताया कि उसके सामने दिक्कतें आ रही हैं, अत: योजना तैयार करने के लिये पर्याप्त समय था. मैं उम्मीद करता हूं कि हमें सबसे अच्छी योजना मिली है, लेकिन मैं दूसरा अनुमान नहीं लगाना चाहता हूं, क्योंकि मैं चीजों को विस्तार से नहीं जानता हूं. राजन ने कहा कि बैंकों की बैलेंस शीट की सफाई की अनिच्छा के चलते भारतीय अर्थव्यवस्था की समस्याएं लंबी खिंच रही हैं. यह काम आपात स्तर पर किए जाने की जरूरत है, अन्यथा एनबीएफसी, निजी बैंक और यहां तक की सरकारी बैंक भी लोगों का विश्वास खो देंगे.



ये भी पढ़ें: YES Bank ग्राहकों को राहत! दूसरे खाते से ₹2 लाख से ज्यादा का कर सकेंगे पेमेंट





यस बैंक के प्रशासक प्रशांत कुमार ने ग्राहकों को जमा राशि को लेकर आश्वस्त करते हुए कहा कि पूंजी जुटाने के लिये भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के साथ ही अन्य निवेशकों के साथ बातचीत चल रही है. रिजर्व बैंक ने कुप्रबंधन को लेकर यस बैंक का नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया है और उसने प्रशांत कुमार को यस बैंक का प्रशासक नियुक्त किया है.
कुमार ने बैंक के ग्राहकों को भेजे एक ईमेल में कहा है कि यस बैंक तीन अप्रैल की तय समयसीमा से पहले ही यथाशीघ्र बैंकिंग सेवाओं को पूरी तरह से शुरू करने के लिये सरकार और रिजर्व बैंक के साथ मिलकर काम कर रहा है. कुमार ने पिछली रात भेजे ईमेल में कहा कि पूंजी जुटाने के लिये हम एसबीआई के साथ ही कई निवेशकों के साथ बातचीत कर रहे हैं. हमें इस बात का भरोसा है कि अगले कुछ दिन में इसे लेकर चीजें पूरी तरह से स्पष्ट हो जाएंगी.



ये भी पढ़ें: SBI ने ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा, खाते में नहीं रखना होगा मिनिमम बैलेंस



उन्होंने कहा कि इस बात को लेकर सुनिश्चित रहिये कि उपभोक्ता हमारी शीर्ष प्राथमिकता है. मैं एक बार पुन: दोहराना चाहता हूं कि आपका जमा पूरी तरह सुरक्षित है. कुमार ने कहा कि मैं समझता हूं कि यस बैंक की कुछ सेवाओं के अभी तक नहीं शुरू होने से आप लोगों को दिक्कतें हो रही हैं. मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि यह क्षणिक है. हम तीन अप्रैल की समयसीमा से काफी पहले ही सारी सेवाओं को सुचारू बनाने के लिये सरकार और रिजर्व बैंक के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज