• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर- प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतों को लेकर रेलवे ने लिया ये फैसला

रेल यात्रियों के लिए बड़ी खबर- प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतों को लेकर रेलवे ने लिया ये फैसला

रेल मंत्रालय के मुताबिक, 21 सितंबर से 20 जोड़ी क्‍लोन ट्रेनें शुरू हो जाएंगी.

रेल मंत्रालय के मुताबिक, 21 सितंबर से 20 जोड़ी क्‍लोन ट्रेनें शुरू हो जाएंगी.

पुणे रेलवे डिवीजन ने कोरोनो वायरस (Coronavirus Pandemic) के प्रकोप को देखते हुए भीड़भाड़ को कम करने के लिए प्लेटफॉर्म टिकट (Train Platform Ticket Hiked) की कीमत को बढ़ाकर 50 रुपए कर दिया है.

  • Share this:
    मुंबई. रेलवे स्टेशन (Indian Railway ) की प्लेटफॉर्म टिकट (Platform Ticket) को लेकर सोशल मीडिया पर जोरदार चर्चा हो रहा है. इसीलिए रेलवे की ओर से इस पर सफाई जारी हुई है. पुणे जंक्शन द्वारा प्लेटफार्म टिकट (Railway Station Platform Ticket)  का मूल्य 50 रुपये रखने का उद्देश्य अनावश्यक रूप से स्टेशन पर आने वालों पर रोक लगाना है जिस से सोशल डिसटेनसिंग का पालन किया जा सके. कोरोना महामारी के शुरुआती दिनों में ही रेलवे ने करीब 250 स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतें पांच गुना तक महंगी कर दी है. रेलवे ने इनका दाम 10 रुपये से बढ़ाकर 50 रुपये कर दिया है. कोरोना वायरस के चलते स्टेशनों पर भीड़ कम करने के लिए रेलवे ने यह कदम उठाया है.

    प्लेटफॉर्म टिकट से आप दो घंटे तक प्लेटफॉर्म पर रह सकते हैं अर्थात आपको दो घंटे तक अपने परिजनों को प्लेटफॉर्म तक छोड़ने या उन्हें वहां से लेने की अनुमति मिलती है. इसे आप ऑनलाइन यूटीएस ऐप के जरिए ही खरीद सकते हैं.


    प्‍लेटफॉर्म टिकट के रेलवे सफर में इस्तेमाल के लिए गार्ड सर्टिफिकेट की जरूरत होती है, जो आपको गार्ड द्वारा उपलब्ध करवाया जाता है. प्लेटफॉर्म टिकट इस बात का प्रमाण है कि आप एक खास स्टेशन से ट्रेन में चढ़े हैं और इस तरह आप जहां जाना चाहते हैं, आपसे उसी गंतव्य स्टेशन तक का किराया लिया जाएगा.



    पश्चिम रेलवे के सभी छह डिविजन- मुंबई, वडोदरा, अहमदाबाद, राजकोट, रतलाम और भावनगर में प्लेटफॉर्म टिकट की दर बढ़ाई गई है.

    इस संदर्भ में रेलवे प्रवक्ता ने सफाई देते हुए कहा कि पुणे जंक्शन द्वारा प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 50 रुपये रखने का उद्देश्य अनावश्यक रूप से स्टेशन पर आने वाले लोगों पर रोक लगाना है.

    इससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सकेगा. मालूम हो कि रेलवे प्लेटफॉर्म टिकट की दरों को कोरोना वायरस महामारी के शुरुआती दिनों से ही नियंत्रित करता आया है.



    रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव (Indian Railway Board Chairman VK Yadav) का कहना है कि डिवीजनल रेलवे प्रबंधकों को प्लेटफॉर्म टिकट से जुड़े निर्देश जारी किए गए हैं.कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के दौरान स्टेशनों पर डिवीजनल रेलवे प्रबंधक भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्लेटफॉर्म टिकट का किराया बढ़ाने का फैसला ले सकते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज