लाइव टीवी

कर्मचारियों के लिए हैंड सैनेटाइजर बना रही है Railway, इतनी है कीमत

भाषा
Updated: March 26, 2020, 8:09 AM IST
कर्मचारियों के लिए हैंड सैनेटाइजर बना रही है Railway, इतनी है कीमत
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उपलब्धि की प्रशंसा करते हुए ट्वीट किया

Coronavirus: अधिकारी ने कहा कि कच्चे माल की खरीद कोलकाता (Kolkata) से की गई है और सैनिटाइजर (Sanitizer) की कीमत 310 रुपये प्रति लीटर तय की गई है, हालांकि यह फिलहाल व्यावसायिक उपयोग के लिए नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर के रेलमंडल कोरोना वायरस प्रकोप (Coronavirus Outbreak) के बीच काम कर अपने कर्मचारियों को हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) मुहैया कराने के लिए उसके उत्पादन की तैयारी रहे हैं. इससे यह सुनिश्चित हो सकेगा कि उन्हें इस उत्पाद की बाजार में उपलब्धता पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. यह जानकारी अधिकारियों ने बुधवार को दी.

इसमें सबसे पहला मंडल पूर्वी रेलवे का आसनसोल मंडल (Asansol Region) बना है जिसने अपने कर्मचारियों के लिए 500 लीटर हैंड सैनिटाइजर का उत्पादन किया है.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हर लोको शेड में लैब हैं, इसलिए हम हर मंडल में इस तरह के सैनिटाइजर का उत्पादन करेंगे.’’ पश्चिम बंगाल के आसनसोल में अंडाल डीजल शेड की प्रयोगशाला में उत्पादित सैनिटाइटर में 760 मिलीलीटर आइसो प्रोपाइल अल्कोहल (99 प्रतिशत), हाइड्रोजन पेरोक्साइड 42 मिली (3 प्रतिशत), 15 मिली ग्लीसरीन, 183 मिली डिस्टिल्ड पानी और परफ्यूम है.

महामारी के दौरान भी काम कर रहे कर्मचारी



ईआर के प्रवक्ता ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमारे पास कर्मचारी हैं जो इस महामारी के दौरान भी काम कर रहे हैं और हमने सोचा कि यह आवश्यक है कि हम उन्हें सुरक्षित करें. हमने लगभग 500 लीटर का उत्पादन किया है और हमने इसे अपने कर्मचारियों को छोटी बोतलों में दिया है. हम इसे अन्य मंडलों में भी बनाने की कोशिश कर रहे हैं. ’’ अधिकारी ने कहा कि कच्चे माल की खरीद कोलकाता से की गई है और सैनिटाइजर की कीमत 310 रुपये प्रति लीटर तय की गई है, हालांकि यह फिलहाल व्यावसायिक उपयोग के लिए नहीं है.

आसनसोल से सीख लेते हुए, जोधपुर मंडल ने भी 215 लीटर हैंड सैनिटाइजर डीजल लोकोमोटिव शेड भगत की कोठी से तैयार किया और मंडल की 13 इकाइयों को वितरित किए.

रेल मंत्री ने की प्रशंसा
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उपलब्धि की प्रशंसा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए रेलवे द्वारा पश्चिम बंगाल के आसनसोल में डीजल शेड द्वारा 500-लीटर सैनिटाइज़र बनाया गया है जो वितरण के लिए तैयार है. इसे अन्य रेलवे इकाइयों द्वारा भी तैयार किया गया है.’’



ये भी पढ़ें-
कोरोना वायरस: सरकार को डॉक्टर्स की जरूरत, रिटायर्ड चिकित्सक भी कर सकते हैं मदद

लॉकडाउन: Parle की सराहनीय पहल, 3 हफ्तों में तीन करोड़ पैकेट्स बांटेगी कंपनी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 6:42 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर