Home /News /business /

अश्विनी वैष्णव का ऐलान, भारत में विकसित BSNL के 4जी नेटवर्क से लगाया पहला फोन कॉल

अश्विनी वैष्णव का ऐलान, भारत में विकसित BSNL के 4जी नेटवर्क से लगाया पहला फोन कॉल

बीएसएनएल का 4जी नेटवर्क भारत में ही बना और डिजाइन हुआ है.

बीएसएनएल का 4जी नेटवर्क भारत में ही बना और डिजाइन हुआ है.

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने ऐलान किया है कि उन्होंने बीएसएनएल (BSNL) के 4जी नेटवर्क से पहली फोन कॉल की.

    नई दिल्ली. केंद्रीय दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने ऐलान किया है कि उन्होंने बीएसएनएल (BSNL) के 4जी नेटवर्क से पहली फोन कॉल की. मंत्री ने कहा कि यह नेटवर्क भारत में ही बना और डिजाइन हुआ है. वैष्णव ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का आत्मनिर्भर भारत विजन साकार हो रहा है.

    केंद्रीय मंत्री ने फोन करने की सूचना ट्वीट कर दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि बीएसएनएल 4जी नेटवर्क जो भारत में बना है, उस पर पहला फोन किया.


    टेलिकॉम सेक्टर में 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को मंजूरी
    हाल ही में सरकार ने टेलिकॉम सेक्टर में 100 फीसदी एफडीआई (FDI) को मंजूरी दी है. इसके अलावा यह फैसला लिया गया कि टेलिकॉम कंपनियों को स्पेक्ट्रम चार्जेज और एजीआर बकाए को लेकर 4 सालों का मॉरेटोरियम दिया जाएगा.

    ये भी पढ़ें- राहत! नहीं कटेगी बिजली, कोयला मंत्री बोले- 24 दिनों की मांग के बराबर है कोयले का भंडार

    अश्विनी वैष्णव ने एक प्रेस कॉन्फेंस में इसका ऐलान करते हुए कहा था कि टेलिकॉम सेक्टर के ऑटोमेटिक रूट में 100 फीसदी एफडीआई की अनुमति दी गई है. कैबिनेट ने कुल 9 स्ट्रक्चरल रिफॉर्म को मंजूरी दी है. इसके अलावा 5 प्रोसेस रिफॉर्म को मंजूरी दी गई है. इसके अलावा टेलीकॉम कंपनियों को एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू यानी एजीआर पेमेंट पर भी 4 साल की राहत मिलेगी.

    इसके अलावा कर्ज में डूबे तमाम टेलिकॉम सेक्टर को राहत देते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने टेलिकॉम द्वारा स्पेक्ट्रम बकाया के भुगतान पर रोक को मंजूरी दी है. टेलिकॉम कंपनियों को स्पेक्ट्रम चार्जेज और एजीआर बकाए को लेकर 4 सालों का मॉरेटोरियम दिया जाएगा.

    Tags: Ashwini Vaishnaw, BSNL

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर