Railway के निजीकरण को लेकर बड़ा फैसला! Railtel में भी हिस्सेदारी बेचने पर चल रहा विचार : रेलवे बोर्ड

Railway के निजीकरण को लेकर बड़ा फैसला! Railtel में भी हिस्सेदारी बेचने पर चल रहा विचार : रेलवे बोर्ड
Railway के निजीकरण को लेकर फैसला, Railtel में हिस्सेदारी बेचने पर चल रह विचार

पिछले 2 साल में करीब 4 कंपनियां लिस्ट करवाने के बाद रेलवे का आगे भी विनिवेश (Railway Privatization) को लेकर बड़ा प्लान है. रेलवे इस वक्त सबसे ज्यादा फोकस इंफ्रास्ट्रक्चर सुधारने पर दे रही है. रेलवे का डिमांड के हिसाब से ट्रेन चलाने का लक्ष्य है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 3, 2020, 3:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले 2 साल में करीब 4 कंपनियां लिस्ट करवाने के बाद रेलवे का आगे भी विनिवेश (Railway Privatization) को लेकर बड़ा प्लान है. रेलवे बोर्ड (Railway Board) के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने CNBC-आवाज़ के इकोनॉमिक पॉलिसी एडिटर लक्ष्मण रॉय से खास बातचीत में कहा कि CONCOR के प्राइवेटाइजेशन की प्रक्रिया चल रही है आगे Railtel में भी विनिवेश किया जाएगा. CONCOR को लेकर DIPAM ने काम शुरू कर दिया है. CONCOR पर GoM का गठन भी हो गया है. कुछ दिन में विनिवेश पर निर्णय की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें:- किसानों की इनकम दोगुनी करने के लिए इस सरकार ने लिया बड़ा फैसला, 15 अगस्त तक मौका

रेलवे का डिमांड के हिसाब से ट्रेन चलाने का लक्ष्य
विनोद कुमार यादव ने आगे कहा कि रेलवे इस वक्त सबसे ज्यादा फोकस इंफ्रास्ट्रक्चर सुधारने पर दे रही है. रेलवे का डिमांड के हिसाब से ट्रेन चलाने का लक्ष्य है. ज्यादा डिमांड वाले रूट पर मल्टी ट्रैकिंग कर रहे हैं. सिग्नल सिस्टम को आधुनिक बना रहे हैं. 2-3 साल में वेटिंग लिस्ट की जरूरत खत्म कर देंगे. अगले 2-3 साल में डिमांड के हिसाब ट्रेन दे पाएंगे.





ये भी पढ़ें:- हर महीने 5 हजार रुपये तक बढ़ जाएगी आपकी इनकम, बस करना होगा ये छोटा सा काम

Concor के विनिवेश की प्रक्रिया जल्द होगी पूरी. सीएनबीसी आवाज के साथ खास बातचीत में चेयरमैन रेलवे बोर्ड ने कहा, कंपनी के साथ लैंड लाइसेंस फी का मुद्दा भी सुलझा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज