इस दिवाली दिल से करें ऑनलाइन शॉपिंग! रेलवे पहुंचाएगा जल्द आपका सामान आप तक

रेलवे प्रीमियम ट्रेनों में पार्सल वैन लगा कर e-commerce कंपनियों के उत्पाद जल्द आप तक पहुंचाएगा
रेलवे प्रीमियम ट्रेनों में पार्सल वैन लगा कर e-commerce कंपनियों के उत्पाद जल्द आप तक पहुंचाएगा

भारतीय रेलवे (Indian Railway) ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों के लिए एक प्लान तैयार कर रहा है. इस प्लान के तहत आपके द्वारा बुक किया गया सामान रेलवे आप तक जल्द पहुंचाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 6:42 AM IST
  • Share this:
फेस्टिवल सीजन को देखते हुए भारतीय रेलवे (Indian Railway) ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों के लिए एक प्लान तैयार कर रहा है. इस प्लान के तहत आपके द्वारा बुक किया गया सामान रेलले आप तक जल्द पहुंचाएगा. दरअसल भारतीय रेलवे अपनी प्रीमियम ट्रेनों में पार्सल वैन लगा कर e-commerce कंपनियों के उत्पाद जल्द पहुंचा रहा है. हाल ही में इस तरह का एक प्रयोग मुंबई सेंट्रल (Mumbai Central) से नई दिल्ली (New Delhi) के बीच चलने वाली रेलवे की प्रमियम ट्रेन मुंबई राजधानी स्पेशल ट्रेन नम्बर 02951 में किया गया. बता दें कि यह रेलवे की हाई स्पीड ट्रेन है.

राजधानी ट्रेनों में भी हो सकता है ऐसा प्रयोग
रेलवे ने फिलहाल अभी वेस्टर्न रेलवे की मुंबई राजधानी से ही ई-कॉमर्स कंपनियों के उत्पाद पहुंचाए हैं. लेकिन ऑर्डर की उपलब्धता को देखते हुए आने वाले दिनों में अन्य राजधानी ट्रेनों में भी इस तरह के प्रयोग कर सकता है. अगर देखा जाए तो राजधानी ट्रेनों से सामान भेजना कुछ महंगा पड़ता है लेकिन ई कॉमर्स कंपनियां अपने प्रोडक्ट जल्द ग्राहकों तक पहुंचाने होते हैं वे राजधानी ट्रेनों के जरिए अपना सामान बुक करके भेज सकते हैं.

रेलवे किसानों की आमदानी बढ़ाने के लिए उठाए कदम
किसानों की आमदनी बढ़ाने, बाजारों तक कृषि उपज की पहुंच बनाने और उपभोक्ताओं को सस्ता फल व सब्जी उपलब्‍ध कराने के लिए सरकार ने किसान स्‍पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया. अब तक चार किसान ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई जा चुकी है. महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच देश की पहली किसान ट्रेन 7 अगस्त को शुरू की गई थी. इसके बाद 9 सिंतबर को दूसरी किसान ट्रेन आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के बीच चलाई गई. फिर तीसरी किसान रेल बेंगलुरू से दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन के बीच चलाई गई. वहीं, आज नागपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के लिए चौथी किसान ट्रेन रवाना की गई.



ये भी पढ़ें: आम आदमी के लिए रेगुलर ट्रेन कब होंगी शुरू? रेलवे ने दी इसकी पूरी जानकारी

आम लोगों को मिलेगी सस्‍ती फल-सब्‍जी
13 अक्‍टूबर को देर शाम किसान रेल के जरिये अधिसूचित सब्जियों और फलों के परिवहन पर 50 फीसदी सब्सिडी देना का ऐलान किया. रेलवे ने बीते बुधवार को नागपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के लिए चौथी किसान स्‍पेशल ट्रेन रवाना की. इससे पहले महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर, आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से दिल्ली के आदर्शनगर और बेंगलुरू से दिल्ली के बीच भी किसान ट्रेन चलाई जा रही हैं. केंद्र इन ट्रेनों के जरिये किसानों की आय बढ़ाने के साथ आम लोगों को सस्‍ती फल-सब्‍जी मुहैया कराना चाहता है.

ये भी पढ़ें: रेलवे के टाइमटेबल से हट सकती हैं 600 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें, होंगे कई बड़े बदलाव

केंद्र सरकार ने परिवहन पर 50 फीसदी सब्सिडी के दायरे में आम, केला, अमरूद, कीवी, लीची, पपीता, मौसमी, नारंगी, किनू, नींबू, अन्नानास, अनार, कटहल, सेव, बादाम, ओनला, पेशन फ्रूट और नाशपाती को शामिल किया है. वहीं, सब्जियों में फ्रेंच बीन, करेला, बैंगन, शिमला मिर्च, गाजर, फूल गोभी, हरी मिर्च, भिंडी, खीरा, मटर, लहसून, प्याज, आलू और टमाटर के परिवहन पर किसानों को तुरंत सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज