Home /News /business /

Indian Railways: रेलवे देगा 1.5 लाख युवाओं को नौकरी, जानें किस दिन आएगा RRB NTPC लेवल-1 का रिजल्ट

Indian Railways: रेलवे देगा 1.5 लाख युवाओं को नौकरी, जानें किस दिन आएगा RRB NTPC लेवल-1 का रिजल्ट

रेलवे भर्ती बोर्ड ने जनवरी 2019 में करीब 1.5 लाख पदों के लिए भर्ती निकाली थी.

रेलवे भर्ती बोर्ड ने जनवरी 2019 में करीब 1.5 लाख पदों के लिए भर्ती निकाली थी.

रेलवे में नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी यानी एनटीपीसी (NTPC) के तहत सरकारी नौकरी के लिए आवेदन करने वालों को जल्द ही आरआरबी की तरफ से खुशखबरी मिल सकती है. रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने कहा है कि आरआरबी एनटीपीसी (NTPC) के लेवल-1 की परीक्षा का रिजल्ट 15 जनवरी तक जारी कर दिया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. रेल मंत्रालय (Ministry of Railways) ने कहा है कि रेलवे भर्ती बोर्ड यानी आरआरबी (RRB) के नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी यानी एनटीपीसी (Non Technical Popular Categories) के लेवल-1 की परीक्षा का रिजल्ट 15 जनवरी तक जारी कर दिया जाएगा. दरअसल, आरआरबी ने जनवरी 2019 में एक लाख से ज्यादा नौकरी देने के लिए वैकेंसी निकाली थी. रेलवे का दावा था कि इन सारे पदों पर दिसंबर 2019 तक भर्ती की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी. लेकिन करीब 2.5 करोड़ आवेदन और फिर कोविड-19 ने इस भर्ती प्रक्रिया को कई बार पटरी से उतारा है और अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह नौकरी कब तक दी जाएगी. इसलिए इस पर परीक्षार्थियों के अलावा राजनीतिक स्तर पर भी कई बार सवाल उठाए गए हैं.

2 करोड़ से ज्यादा आवेदन
रेलवे भर्ती बोर्ड ने जनवरी 2019 में करीब 1.5 लाख पदों के लिए भर्ती निकाली थी. रेलवे में यह वैकेंसी 4 साल के बाद आई थी, जिसकी वजह से 2 करोड़ 40 लाख से ज्यादा आवेदन किए गए. आरआरबी ने जनवरी 2019 में नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी के लिए 35281 पदों पर वैकेंसी निकाली थी. इसके तहत स्टेशन मास्टर, गार्ड, कमर्शियल क्लर्क, नॉर्मल क्लर्क और ट्रेन क्लर्क जैसे पदों पर नौकरी दी जानी है. लेकिन इतने पदों के लिए रेलवे के पास 12630885 आवेदन आए.

ये भी पढ़ें- जेवर एयरपोर्ट के पास बन रहा रेलवे का विशाल फ्रेट विलेज, हजारों लोगों को मिलेगा रोजगार

कोविड का असर
रेलवे ने इसके लिए CBT यानि कंप्यूटर बेस्ट टेस्ट आयोजित किए. यह परीक्षा कोविड-19 की वजह से प्रभावित हुई. यह परीक्षा 8 चरणों में 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 208 शहरों में आयोजित की गई. इनमें से 7 चरणों की परीक्षा कोविड से पहले आयोजित कर ली गई थी.

प्रश्नों पर करीब एक लाख ऑब्जेक्शन
रेलवे ने इस परीक्षा में किसी सवाल से जुड़ी आपत्ति भी मंगाई. 18.08.21 से 23.08.21 तक रेलवे को 93263 प्रश्नों को लेकर ऑनलाइन ऑब्जेक्शन मिले. फिलहाल इसकी जांच चल रही है. इनमें से वाजिब तौर पर गलत प्रश्नों को हटाकर ही कुल अंक जोड़े जाएंगे. उसके बाद ही 15 जनवरी को दूसरे चरण के लिए मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी. उसके बाद अभ्यर्थियों को दूसरे चरण के CBT यानि कंप्यूटर बेस्ट टेस्ट के लिए बुलाया जाएगा. लेवल- 2 के परिणाम आने के बाद मेडिकल जांच की प्रक्रिया पूरी की जाएगी. उसके बाद ही सफल कैंडिडेट को नौकरी दी जाएगी.

ये भी पढ़ें- Indian Railway News: क्या शेयर मार्केट में IRCTC की हालत में होगा सुधार!

फॉर्म भरने में तकनीकी गलतियां
इसी समय रेलवे की सबसे बड़ी वैकेंसी एक लाख से ज्यादा (103769) पदों के लिए निकाली गई थी. इसके तहत सभी जोनल रेलवे और रेलवे के प्रोडक्शन यूनिट में भर्ती की जानी है. इसके लिए रेलवे को 1 करोड़ से ज़्यादा (11567284) आवेदन मिले. लेकिन ऑनलाइन किए गए इन आवेदनों में बड़ी संख्या में तकनीकी तौर पर गलत फोटो और सिग्नेचर लगाए गए. जिसकी वजह से करीब साढ़े 5 लाख (548829) आवेदन रद्द कर दिए गए.

CAT का आदेश
इस पर विवाद के बाद यह मामला CAT यानि सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल (Central Administrative Tribunal) तक पहुंचा. CAT के आदेश के बाद रेलवे ऐसे अभ्यर्थियों को 15 दिसंबर 2021 तक एक ऑनलान लिंक मुहैया कराएगा. इस पर तकनीकी तौर पर गलत फोटो या सिग्नेचर को बदला जा सकता है. उसके बाद ही सफल आवेदकों की सूची फाइनल होगी और इन पदों से लिए भर्ती प्रक्रिया पटरी पर आ सकेगी.

Tags: Government jobs, Indian railway, Job, Sarkari Result

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर