अपना शहर चुनें

States

लाखों कर्मचारियों को सरकार ने दिया तोहफा! रेलवे ने शुरू की ESS सुविधा, अब घर बैठे होंगे ये सभी काम

इस HRMS की मदद से रेलवे कर्मचारियों और पेंशनधारकों के कई काम ऑनलाइन ही हो जाएंगे.
इस HRMS की मदद से रेलवे कर्मचारियों और पेंशनधारकों के कई काम ऑनलाइन ही हो जाएंगे.

रेल मंत्रालय (Ministry of Railway) ने गुरुवार को अपने लाखों कर्मचारी व पेंशनधारकों के लिए एचआर मैनेजमेंट सिस्टम (HRMS) लॉन्च किया है. इसके तहत कर्मचारियों को पीएफ बैलेंस, पीएफ एडवांस समेत कई जरूरी जानकारियां ऑनलाइन ही मिल सकेंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2020, 8:29 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंडियन रेलवे (Indian Railway) ने अपने मौजूदा व रिटायर्ड कर्मचारियों के लिए गुरुवार को ऑनलाइन एचआर मैनेजमेंट सिस्टम (HRMS) लॉन्च किया है. इस HRMS के तहत कर्मचारी व पेंशनधारक अपना पीएफ बैलेंस चेक करने और पीएफ एडवांस के लिए आवेदन करने समेत कई काम ऑनलाइन ही पूरा कर सकेंगे. रेल मंत्रालय (Ministry of Railway) ने गुरुवार को एक बयान जारी कर बताया कि HRMS प्रोजेक्ट के जरिए प्रोडक्टिविटी बढ़ाने में मदद मिलेगी और कर्मचारियों की संतुष्टि भी होगी. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन व सीईओ विनोद कुमार यादव (Vinod Kumar Yadav) ने कर्मचारियों और पेंशनधारकों के लिए इस HRMS के मॉड्यूल और यूजर डिपोट को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लॉन्च किया.

इसमें एक एम्प्लॉई सेल्फ सर्विस (ESS- Employee Self Service) मॉड्यूल भी है, जिसके जरिए कर्मचारियों HRMS के अन्य मॉड्यूल से इंटरएक्ट कर सकेंगे. कर्मचारी कई जरूरी सुधार के लिए इसी HRMS के जरिए संपर्क कर सकेंगे.

घर बैठे पीएफ एडवांस के लिए आवेदन कर सकेंगे
इसमें से एक मॉड्यूल प्रोविडेंट फंड एडवांस  (PF Advance) का है. इसके जरिए कर्मचारी घर बैठे ऑनलाइन ही अपना पीएफ बैलेंस चेक कर सकेंगे और पीएफ एडवांस के लिए आवेदन कर सकेंगे. एडवांस प्रोसेसिंग ऑनलाइन ही की जाएगी और कर्मचारी अपने पीएफ एप्लीकेशन स्टेटस को ऑनलाइन ही चेक कर सकेंगे.
यह भी पढ़ें: टेक्सटाइल इंडस्ट्री के लिए जल्द आएगी PLI स्कीम, रोजगार से लेकर निर्यात बढ़ाने में मिलेगी मदद



ऑनलाइन होगा रिटायरमेंट होने वाले कर्मचारियों का सेटलमेंट प्रोसेस
इसके अलावा विनोद कुमार यादव ने सेटलमेंट मॉड्यूल भी लॉन्च किया. इसके तहत रिटायर होने वाले कर्मचारियों का सेटलमेंट प्रोसेस​ डिजिटल माध्यम से पूरा किया जाएगा. रिटायर होने वाले कर्मचारी सेटलमेंट/पेंशन बुकलेट ऑनलाइन ही भर सकेंगे. इन कर्मचारियों की सर्विस डिटेल्स और पेंशन प्रोसेसिंग का काम ऑनलाइन ही पूरा होगा. इससे पेपर की बचत करने में मदद मिलेगी और सेटलमेंट प्रोसेसिंग की मॉनिटरिंग भी हो सकेगी ताकि समय पर काम पूरे किए जा सकें.



यह भी पढ़ें:  1 दिसंबर से आपके खाते में पैसा ट्रांसफर करेगी सरकार, इस तरह चेक करें लिस्ट में अपना नाम

रेलवे ने अपने बयान में कहा, 'यह रेलवे सिस्टम की दक्षता और उत्पादकता बढ़ाने की ओर एक कदम है. साथ ही, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा डिजिटलीकरण के विज़न को भी पूरा हो सकेगा.' उम्मदी की जा रही है कि इस एचआरएमएस से सभी कर्मचारियों के कार्यशैली में कई बदलाव होंगे और वे टेक सेवी मन सकेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज