• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Railway Exams RRB की बजाय NTA से कराए जाने के पक्ष में रेल संगठन, जल्‍द रेल मंत्रालय को भेजी जाएगी सिफारिश

Railway Exams RRB की बजाय NTA से कराए जाने के पक्ष में रेल संगठन, जल्‍द रेल मंत्रालय को भेजी जाएगी सिफारिश

NFIR का मत है कि भारतीय रेल एनटीए के माध्यम से अपनी परीक्षा आयोजित कर सकता है.  (फाइल फोटो)

NFIR का मत है कि भारतीय रेल एनटीए के माध्यम से अपनी परीक्षा आयोजित कर सकता है. (फाइल फोटो)

Indian Railways Exams : रेलकर्मियों का शीर्ष संगठन नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमैन (NFIR) चाहता है कि भविष्‍य में रेलवे भर्ती की सभी परीक्षाएं रेलवे भर्ती बोर्ड की बजाय नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) से कराए जाएं. इसको लेकर एनएफआईआर ने संबद्ध सभी संगठनों से इस संबंध में अध्ययन एवं हितधारकों से परामर्श करने के बाद जल्‍द से जल्‍द अपने विचार भेजने को कहा है, ताकि इस बारे में आगे कदम उठाया जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्‍ली : भारतीय रेल (Indian Railways) के रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (Railway Recruitment Board) की ग्रुप डी परीक्षा (RRB Group D Exam 2021) एवं एनटीपीसी एग्जाम (RRB NTPC Results 2021) के जल्‍द जारी होने जा रहे रिजल्ट के बीच रेलवे भर्ती परीक्षाओं को लेकर रेल संगठनों की ओर से नई मांग रेल मंत्रालय के सामने रखी जा सकती है. दरअसल, रेलकर्मियों का शीर्ष संगठन नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमैन (NFIR) चाहता है कि भविष्‍य में रेलवे भर्ती की सभी परीक्षाएं रेलवे भर्ती बोर्ड की बजाय नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) से कराए जाएं. इसको लेकर एनएफआईआर ने संबद्ध सभी संगठनों से इस संबंध में अध्ययन एवं हितधारकों से परामर्श करने के बाद जल्‍द से जल्‍द अपने विचार भेजने को कहा है, ताकि इस बारे में आगे कदम उठाया जा सके.

नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमैन (NFIR) के महामंत्री एम रघुवईया ने संबद्ध संगठनों के महासचिवों को इस बाबत पत्र लिखा है. पत्र में कहा गया है कि RRCB की स्थापना साल 1998 में भारतीय रेल के तहत विभिन्न रेलवे भर्ती बोर्डों (RRBs) के कामकाज के समन्वय और सुव्यवस्थित करने के लिए की गई थी. वर्तमान में, 21 कार्यरत आरआरबी हैं. यह देखते हुए कि सरकार ने एक राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) बनाई है, जिसके पास केंद्र सरकार में विभिन्न भर्तियों के लिए एक सामान्य प्रारंभिक परीक्षा आयोजित करने का जिम्‍मा है.

पढ़ें : Indian Railways: प्रत‍ियोगी परीक्षा के कैंडिडेट्स के ल‍िए इन ट्रेनों में जोड़े जा रहे अत‍िर‍िक्‍त कोच, चेक करें ड‍िटेल

उनका कहना है कि ऐसे में अलग आरआरबी की कोई आवश्यकता नहीं है. इसलिए, इस बुनियादी ढांचे को मौजूदा 2टी आरआरबी को शीर्ष प्राधिकरण एनटीए के तहत एकीकृत करने की सिफारिश की जाती है.

रघुवईया का कहना है कि भारतीय रेल एनटीए के माध्यम से अपनी परीक्षा आयोजित कर सकता है. एनटीए के साथ समन्वय करने के लिए रेलवे में एक छोटा डिजिटल कार्यालय हो सकता है.

इसके लिए उनकी तरफ से एनएफआईआर से संबद्ध जोनल रेलवे यूनियनों को सलाह दी गई है कि वे इस बाबत विस्‍तृत अध्ययन करें, हितधारकों से परामर्श करें और मामले को बेहद जरूरी मानते हुए जल्‍द अपने विचार भेजें. इस तरह देश का सबसे बड़ा रेल संगठन एनएफआईआर अलग अलग आरआरबी की बजाय नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) से कराए जाने पर सहमत है.

पढ़ें : Railway Naukri : उत्तर रेलवे में 10वीं पास के लिए 3000 से अधिक नौकरियां, आवेदन शुरू, बिना परीक्षा के हो रही भर्ती

संगठन के प्रवक्‍ता एवं यूआरएमयू के अध्‍यक्ष एसएन मलिक का कहना है कि इतने बड़े स्‍तर पर परीक्षाओं को आयोजित करने से भारतीय रेल को काफी वित्‍तीय बोझ उठाना पड़ता है और मैनफोर्स को भी काम में लगाना पड़ता है. इसलिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के तहत ही सभी परीक्षाएं आयोजित करवाने की जिम्‍मेदारी होनी चाहिए. उन्‍होंने बताया कि शीर्ष संगठन की तरफ से सभी जोनल इकाइयों को यह पत्र भेजा गया है, ताकि इस बारे में स्‍टेकहोल्‍डर्स से विस्‍तार से चर्चा की सके और निष्‍कर्षों को आगे भेजा सके. निष्‍कर्ष आने के बाद आगामी वर्किंग कमेटी में इस पर चर्चा की जाएगी और फेडरेशन की तरफ से अपनी सिफारिश रेल मंत्रालय एवं भारत सरकार को जल्‍द भेजी जाएंगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज