Oxygen Express: रेलवे ने अब तक पूरे देश में 21392 टन 'संजीवनी' पहुंचाई, दिल्ली को मिली सबसे ज्यादा 5476 टन ऑक्सीजन

ऑक्सीजन एक्सप्रेस (फाइल फोटो)

ऑक्सीजन एक्सप्रेस (फाइल फोटो)

रेलवे ने बताया कि अब तक 313 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए विभिन्न राज्यों को ऑक्सीजन पहुंचाई गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश इस वक्त कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से जूझ रहा है. कोरोना के खिलाफ जंग में रेलवे (Railways) भी अपनी अहम भूमिका निभा रहा है, जिसके तहत उसने अब तक 15 राज्यों को 1274 से ज्यादा टैंकरों के जरिए 21,392 मीट्रिक टन से ज्यादा लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन यानी एलएमओ (Liquid Medical Oxygen) उपलब्ध कराई है.

रेलवे ने बताया कि अब तक 313 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए विभिन्न राज्यों को ऑक्सीजन पहुंचाई गई है, जबकि 23 टैंकरों में 406 टन से अधिक लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन के साथ पांच ट्रेनें इस समय अपने-अपने गंतव्य स्थान की ओर जा रही हैं. उसने बताया कि हरियाणा और कर्नाटक को दो-दो हजार टन ऑक्सीजन उपलब्ध कराई गई है जबकि तमिलनाडु और तेलंगाना को 1800-1800 टन से ज्यादा ऑक्सीजन दी गई है.

ये भी पढ़ें- किसानों के लिए अच्‍छी खबर! PM-KISAN की दो किस्‍तों का एकसाथ ले सकते हैं फायदा, जानें कैसे

24 अप्रैल को शुरू हुई थी ऑक्सीजन एक्सप्रेस
ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन 24 अप्रैल को शुरू किया गया था, जिसमें महाराष्ट्र को 126 टन ऑक्सीजन उपलब्ध कराई गई थी. इसके बाद उत्तराखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड और असम को मिलाकर कुल 15 राज्यों को इस सुविधा का लाभ मिला.

ये भी पढ़ें- 1 जून से लागू होगा EPFO का नया नियम! शर्तें पूरी नहीं कीं तो पीएफ सब्‍सक्राइबर्स को होगा तगड़ा नुकसान

15 राज्यों को उपलब्ध कराई गई ऑक्सीजन



रेलवे की ओर से अब तक महाराष्ट्र में 614 टन, उत्तर प्रदेश में लगभग 3,797 टन, मध्य प्रदेश में 656 टन, दिल्ली में 5,476 टन, हरियाणा में 2,023 टन, राजस्थान में 98 टन, कर्नाटक में 2,115 टन, उत्तराखंड में 320 टन, तमिलनाडु में 1,808 टन, आंध्र प्रदेश में 1,738 टन, पंजाब में 225 टन, केरल में 380 टन, तेलंगाना में 1,858 टन, झारखंड में 38 टन और असम में 240 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा चुकी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज