होम /न्यूज /व्यवसाय /

सोमनाथ रेलवे स्‍टेशन का बदलेगा स्‍वरूप, हरिद्वार, पटना, रामेश्‍वरम, हावड़ा और भावनगर से चलेंगी सीधी ट्रेनें

सोमनाथ रेलवे स्‍टेशन का बदलेगा स्‍वरूप, हरिद्वार, पटना, रामेश्‍वरम, हावड़ा और भावनगर से चलेंगी सीधी ट्रेनें

सोमनाथ स्‍टेशन का प्रस्‍तावित डिजाइन.

सोमनाथ स्‍टेशन का प्रस्‍तावित डिजाइन.

Somnath Railway Station Development News: देश के 123 रेलवे स्‍टेशनों को पीपीपी मॉडल के तहत रि-डेवलप किया जा रहा है. इसी के तहत गुजरात के सोमनाथ रेलवे स्‍टेशन (Somnath Railway Station) का स्‍वरूप भी बदलेगा. इंडियन रेलवे (Indian Railway) ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है. इसके साथ ही, यहां पर श्रद्धालुओं को पहुंचने में सुविधा हो, इसके लिए कई शहरों से ट्रेन चलाने की भी योजना है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. अयोध्‍या, काशी जैसे धार्मिक स्‍थलों के रेलवे स्‍टेशन (Railway Station) विकसित (Development) होने के बाद अब गुजरात के सोमनाथ रेलवे स्‍टेशन (Somnath Railway Station) का स्‍वरूप भी बदलने की तैयारी है. इंडियन रेलवे (Indian Railway) ने इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. साथ ही, यहां पर श्रद्धालुओं को पहुंचने में सुविधा हो, इसके लिए कई शहरों से ट्रेन चलाने की भी योजना है. इंडियन रेलवे ने स्‍टेशन को विकसित करने का डिजाइन तैयार किया है. हालांकि अभी यह डिजाइन स्‍वीकृति नहीं हुआ है. इस स्‍टेशन को सोमनाथ मंदिर का लुक दिया जाएगा.

रेलवे मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार देश के 123 स्‍टेशनों को पीपीपी मॉडल के तहत रि-डेवलप किया जा रहा है. इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (Indian Railway Station Development Corporation- IRSDC) इन स्‍टेशनों को डेवलप करा रहा है. सोमनाथ स्‍टेशन भी इनमें से एक है. सोमनाथ स्‍टेशन में मौजूदा समय 10 ट्रेनों का संचालन होता है. यह स्‍टेशन वेस्‍टर्न रेलवे जोन के तहत भावनगर डिवीजन में आता है. यहां पर दो प्‍लेटफार्म है. स्‍टेशन के लिए सेकेंड एंट्री नहीं है. श्रद्धालुओं की सुविधाओं को ध्‍यान में रखते हुए कई बदलाव किए जा रहे हैं.

ये होंगे बदलाव

.स्‍टेशन विकसित होने के बाद हरिद्वार, पटना, रामेश्‍वरम, हावड़ा और भावनगर से सीधी ट्रेनें चलाई जाएंगी.

. वीआईपी एसी लांज बनाया जाएगा.

. वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए प्‍लेटफार्म पर बैटरी ऑपरेटेड वाहन चलाए जाएंगे.

. स्‍टेशन में आने-जाने का अलग अलग रास्‍ता होगा.

. पिकअप और ड्रॉप जोन अलग-अलग होगा.

. दोनों प्‍लेटफार्म पर शेड डाला जाएगा, जिससे यात्रियों को धूप और बारिश में परेशानी न हो.

.टूरिस्‍ट इनफॉर्मेशन क्‍योस्‍क, एटीएम, बेबी फीडिंग रूम और फर्स्‍ट एड रूम बनाया जाएगा.

. भविष्‍य में रेलवे स्‍टेशन को बस स्‍टैंड से एलेवेटेड कनेक्‍ट करने का प्रस्‍ताव भी है.

ये प्रमुख स्‍टेशन भी हो रहे हैं डेवलप

पीपीपी मॉडल के तहत डेवलप होने वाले प्रमुख स्‍टेशनों में नई दिल्‍ली स्‍टेशन, ब्रिजवासन दिल्‍ली, सीएसटी मुंबई, अमृतसर,नागपुर, जयपुर,उदयपुर,ग्‍वालियर,सिकंदराबाद, हैदराबाद, प्रयागराज, कानपुर,सूरत, देहरादून,पुड्डूचेरी, तिरुपति, वेल्‍लोर शामिल हैं.

Tags: Indian railway, Indian Railway news, Railway Station

अगली ख़बर