लाइव टीवी

सेबी के रडार पर 'बिग बुल', गैर-कानूनी ट्रेडिंग को लेकर भाई और पत्नी को भी समन

News18Hindi
Updated: January 28, 2020, 6:25 PM IST
सेबी के रडार पर 'बिग बुल', गैर-कानूनी ट्रेडिंग को लेकर भाई और पत्नी को भी समन
राकेश झुनझुनवाला

बाजार नियामक सेबी ने देश के सबसे बड़े निवेशक राकेश झुनझुनवाला को इनसाइडर ट्रेडिंग के मामले में जांच के लिए ​समन भेजा है. इसमें उनकी पत्नी रेखा और भाई राजेश कुमार झुनझुनवाला का भी नाम शामिल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2020, 6:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े निवेशक और बिग बुल के नाम से पहचाने जाने वाले राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) के खिलाफ भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) ने जांच का आदेश दिया है. राकेश झुनझुनवाला के खिलाफ यह जांच एक कंपनी के खिलाफ इनसाइडर ट्रेडिंग (Insider Trading) को लेकर होगी. इस मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने बताया, 'नियामक फरवरी 2016 से सितंबर 2016 के बीच की गई ट्रेडिंग की जांच कर रहा है. शुरुआती शक के मुताबिक यह माना जा रहा है कि इनसाइडर की जानकारी के आधार पर इस दौरान ट्रेडिंग की गई है.'

क्या होता है इनसाइडर ट्रेडिंग
इनसाइडर ट्रेडिंग वो होता है जब गैर-​पब्लिक जानकारियों के आधार पर किसी कंपनी के शेयर्स की खरीदारी या बिक्री की जाती है. सेबी के नियमों के मुताबिक, पब्लिक के बीच न दी जाने वाली प्राइस सेंसटिव जानकारियों के आधार पर भी ट्रेडिंग करना गैर-कानूनी है.

यह भी पढ़ें: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के रडार पर 5000 कंपनियां, जल्द होगी कार्रवाई



भाई राजेश और पत्नी रेखा का भी नाम शामिल
​7 सितंबर 2016 को, ऐपटेक के शेयरों पर अपर सर्किट लगाया गया था ताकि एक दिन में एक तय भाव से अधिक दाम पर शेयरों की ट्रेडिंग न की जाए. यह अपर ​सर्किट 175.05 रुपये प्रति शेयर पर लगाया था. इस दिन राकेश झुनझुनवाला के भाई राजेश कुमार झुनझुनवाला और पत्नी रेखा झुनझुनवाला ने ब्लॉक डील्स के तहत 7,63,057 शेयर्स खरीदे थे. सेबी ने इन दोनों को समन जारी किया है. अभी तक इस मामले पर न तो राकेश झुनझुनवाला और न ही ऐपटेक कंपनी की तरफ से कोई बयान सामने आया है.ऐपटेक में राकेश का 24.24 फीसदी स्टेक
बता दें कि राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में यह इकलौती कंपनी है, जिसमें इनका प्रबंधकीय नियंत्रण है. राकेश इस कंपनी में पैसिव शेयरहोल्डर हैं. वर्तमान में उनके पास इस कंपनी में कुल 24.24 फीसदी स्टेक है, जिसकी कुल कीमत 160 करोड़ रुपये बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें: FD नहीं बल्कि यहां करें निवेश, हर महीने होगी मोटी कमाई, टैक्स भी है बेहद कम



अंतिम बार फरवरी 2019 में खरीदा था ऐपटेक का शेयर
साल 2005 में झुनझुनवाला ने ऐपटेक में 10 फीसदी शेयर्स खरीदा था. इस दौरान एक शेयर का भाव 56 रुपये था. इसके बाद उन्होंने इस कंपनी में अपनी होल्डिंग को लगातार बढ़ाया. अंतिम बार उन्होंने इस कंपनी में अपने स्टेक को फरवरी 2019 में 0.19 फीसदी बढ़ाया था.

झुनझुनवाला के पोर्ट​फोलियों में इन दिग्गज कंपनियां के स्टॉक्स
सेबी ने सेक्शन Section 11 C(5) के तहत राकेश झुनझुनवाला को यह समन भेजा है. वह बता दें कि एसेट मैनेजमेंट कंपनी रेयर एंटरप्राइज के साथ मिलकर अपना पोर्टफोलियो खुद ही मैनेज करते हैं. उनके इन्वेस्टमेंट पोर्टफोलियो में फिलहाल 24 स्टॉक्स हैं, जिनकी कुल वैल्यू करीब 18,000 करोड़ रुपये है. झुनझुनवाला के टॉप होल्डिंग्स में टाइटन, ल्यूपिन और क्रिसिल जैसी कंपनियां हैं.

यह भी पढ़ें: डाक विभाग 1 अप्रैल से शुरू कर रहा है आपकी सहूलियत की ये सेवाएं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 5:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर