लाइव टीवी

राशन कार्ड का नया नियम- एक ही राशन कार्ड पर पूरे देश में कर सकेंगे खरीदारी, 1 जून से लागू

भाषा
Updated: February 7, 2020, 6:27 PM IST
राशन कार्ड का नया नियम- एक ही राशन कार्ड पर पूरे देश में कर सकेंगे खरीदारी, 1 जून से लागू
नये कार्ड जारी किये जाने की अफवाहों के प्रति आगाह किया

उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री (Minister of Consumer Affairs, Food and Public Distribution) रामविलास पासवान ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के जवाब में बताया कि गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों को देश में कहीं भी राशन लेने की सुविधा देने के लिए ‘एक देश एक राशन कार्ड’ योजना को आगामी एक जून से लागू कर दिया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली.  केंद्र सरकार ने संसद में शुक्रवार को बताया कि ‘एक देश एक राशन कार्ड’ योजना (One nation, one ration card) को एक जून से पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा. यह योजना अभी 12 राज्यों में लागू है. उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री (Minister of Consumer Affairs, Food and Public Distribution) रामविलास पासवान ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के जवाब में बताया कि गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों को देश में कहीं भी राशन लेने की सुविधा देने के लिए ‘एक देश एक राशन कार्ड’ योजना को आगामी एक जून से लागू कर दिया जाएगा. पासवान ने कहा कि 2013 में 11 राज्यों में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून लागू होने के बाद अब इसके दायरे में सभी राज्य आ गए हैं.

12 राज्यों में योजना शुरू
उन्होंने बताया कि इस योजना के अगले चरण में सरकार ने पूरे देश के लिए एक ही राशन कार्ड जारी करने की पहल गत एक जनवरी को 12 राज्यों (आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गुजरात, केरल कर्नाटक, राजस्थान, हरियाणा, त्रिपुरा, गोवा, झारखंड और मध्य प्रदेश) से शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें: RBI का नया ऐलान! अब आपको बदलवानी होगी चेक बुक, ये है आखिरी तारीख



नए कार्ड की जरूरत नहीं
उन्होंने स्पष्ट किया कि ‘एक देश एक राशन कार्ड’ के लिए नए कार्ड की जरूरत नहीं होगी. साथ ही पासवान ने नए कार्ड जारी किये जाने की अफवाहों के प्रति आगाह करते हुए कहा कि यह बिचौलियों का खेल है, अगर यह खेल नहीं रुका तो मंत्रालय इसकी सीबीआई जांच कराने से भी पीछे नहीं हटेगा.इस समयसीमा से सिर्फ पूर्वोत्तर राज्य अलग
पासवान ने एक अन्य पूरक प्रश्न के जवाब में बताया कि मंत्रालय ने एक जून से पूरे देश में ‘एक देश एक राशन कार्ड’ योजना लागू करने का लक्ष्य तय किया है. इस समयसीमा से सिर्फ पूर्वोत्तर राज्यों को अलग रखा गया है. उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत सभी राशन की दुकानों को फिंगर प्रिंट पहचान मशीन (PoS Machine) से लैस करने और राशन कार्ड को आधार से लिंक करने की अनिवार्यता को देखते हुए पूर्वोत्तर राज्यों को इस समय सीमा से मुक्त रखा गया है.

ये भी पढ़ें: इधर कैश में लेन-देन किया उधर मैसेज पर आ जाएगा इनकम टैक्स का नोटिस, अब होगी रियल टाइम मॉनिटरिंग



तीन केंद्र शासित क्षेत्र में पायलट प्रोजेक्ट पूरा नहीं
राशन कार्ड पर मिलने वाले खाद्यान्न की कीमत सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में भेजने (डीबीटी) की योजना के बारे में पासवान ने बताया कि तीन केंद्र शासित क्षेत्र (पुडुचेरी, चंडीगढ़ और दादर नगर हवेली) में पायलट प्रोजेक्ट पूरा नहीं हो पाया है.

इसके लिए उन्होंने पुडुचेरी सरकार की असहमति को मुख्य वजह बताते हुए कहा कि राज्य सरकारों की सहमति के बिना राशन कार्ड योजना को डीबीटी से नहीं जोड़ा जा सकता है. इसलिए फिलहाल ‘एक देश एक राशन कार्ड’ योजना को लागू करने पर ही सरकार ने ध्यान केंद्रित किया है. पासवान ने कहा कि जहां राज्य सरकार सहमति देगी वहां डीबीटी के माध्यम से कैशलैस राशन वितरण होगा, जहां राज्य सरकारें सहमत नहीं होंगी, वहां इंतजार करेंगे.

ये भी पढ़ें:-

SBI के करोड़ों ग्राहकों को झटका! बैंक ने फिर कम किया FD पर मुनाफा, यहां चेक करें नए रेट्स
अब आधार के जरिए तुरंत मिलेगा PAN कार्ड, इस महीने शुरू होगी सुविधा
अब फटाफट क्लियर होगा आपका चेक, सितंबर से पूरे देश में लागू होगा नया सिस्टम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 5:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर