कोरोना मरीजों को राहत, Remdesivir का प्रोडक्शन बढ़ा रही हैं दवा कंपनियां

रेमडेसिविर

रेमडेसिविर

जायडस कैडिला (Zydus Cadila) ने एक बयान में कहा, ''कोविड-19 संक्रमण के मामले हाल में बढ़ने से रेमडेसिविर (Remdesivir) की मांग बढ़ी है. हम फिलहाल तीन-चार प्लांट में इसका प्रोडक्शन कर रहे हैं.''

  • Share this:
नई दिल्ली. कोविड-19 (Covid-19) के इलाज में उपयोगी रेमडेसिविर (Remdesivir) दवा बनाने वाली कंपनियों ने कहा कि उन्होंने देश में बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए इस दवा का प्रोडक्शन बढ़ा दिया है. बता दें कि सरकार ने कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए रविवार को रेमडेसिविर इंजेक्शन और उसके एपीआई (Active Pharmaceutical Ingredients) के निर्यात पर स्थिति सुधरने तक रोक लगा दी है.

जायडस कैडिला के प्रवक्ता ने कहा, ''कोविड-19 संक्रमण के मामले हाल में बढ़ने से रेमडेसिविर की मांग बढ़ी है. हम फिलहाल तीन-चार प्लांट में इसका प्रोडक्शन कर रहे हैं. मांग को पूरा करने के लिए हमने उत्पादन को 5-6 लाख शीशी से बढ़ाकर 10-12 लाख शीशी महीना कर दिया है. हम अब इसे बढ़ाकर 20 लाख शीशी प्रति महीना करेंगे.'' कंपनी के मुताबिक, अगले कुछ सप्ताह में आपूर्ति की स्थिति बेहतर होगी.

अगले कुछ सप्ताह में स्थिति सुधरने की उम्मीद

डा. रेड्डीज लैबोरेटरीज ने भी कहा कि वह भारत में ज्यादा-से-ज्यादा मरीजों तक रेमडेसिविर पहुंचाने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है. कंपनी ने एक बयान में कहा, ''हम प्रोडक्शन बढ़ा रहे हैं. हम बाजार में लिक्विड प्रोडक्ट ला रहे हैं जिसे तेजी से बनाया और आपूर्ति की जा सकती है. हमने एमआरपी में भी 50 फीसदी की कमी की है ताकि कीमत इंजेक्शन के मरीजों तक पहुंच को लेकर बाधा नहीं बने.'' बयान के मुताबिक, कंपनी को अगले कुछ सप्ताह में स्थिति सुधरने की उम्मीद है.
ये भी पढ़ें- सीनियर सिटीजंस को तोहफा! SBI, ICICI समेत ये बैंक 30 जून तक दे रहे ज्यादा ब्याज, आप भी इस तरह लें फायदा

दवा कंपनी सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज ने कहा कि वह बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए सिनजेन के साथ गठजोड़ कर रेमडेसिविर प्रोडक्शन की क्षमता बढ़ा रही है. सन फार्मा के प्रवक्ता ने कहा, ''कंपनी पहले ही उत्पादन बढ़ा चुकी है और अभी दो प्लांट में रेमडेसिविर का प्रोडक्शन कर रही है. प्रोडक्शन बढ़ाने के इरादे से एक और प्लांट में इसके प्रोडक्शन का फैसला किया. हम लगातार स्थिति पर नजर रख रहे हैं और कोविड-19 के इलाज में उपयोगी दवा की पहुंच मरीजों तक सुनिश्चित करने के लिए अथक काम कर रहे हैं.''

सिप्ला ने भी कहा कि उसे पिछले बार के संक्रमण के मुकाबले इस बार रेमडेसिविर का प्रोडक्शन उल्लेखनीय रूप से बढ़ाया है. कंपनी के मुताबिक, ''हमने पिछली बार के मुकाबले प्रोडक्शन को दोगुना किया है. दवा की अप्रत्याशित मांग को देखते हुए, हम अपने नेटवर्क के जरिए अपनी क्षमता को और बढ़ाया है.''



ये भी पढ़ें- कोरोना की दूसरी लहर से बढ़ी महंगाई! सरसों तेल का भाव ₹200 तक पहुंचा, दाल से लेकर डब्बाबंद दूध तक महंगा

देश में रेमडेसिविर के 7 मैन्युफैक्चरर

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा कि देश में रेमडेसिविर के सात मैन्युफैक्चरर हैं और उनकी क्षमता करीब 38.80 लाख यूनिट प्रति महीना है. मंत्रालय के अनुसार औषधि विभाग (Department of Pharmaceuticals) दवा का उत्पादन बढ़ाने को लेकर घरेलू मैन्युफैक्चरर के संपर्क में है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज