• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • HDFC ग्राहकों के लिए बड़ी खबर! RBI ने बैंक की डिजिटल सेवाओं पर लगाई रोक

HDFC ग्राहकों के लिए बड़ी खबर! RBI ने बैंक की डिजिटल सेवाओं पर लगाई रोक

HDFC बैंक ने ग्रामीण और देश के अंदरूनी इलाकों तक वित्‍तीय सेवाओं का विस्‍तार करने के लिए नई सुविधा शुरू की है.

HDFC बैंक ने ग्रामीण और देश के अंदरूनी इलाकों तक वित्‍तीय सेवाओं का विस्‍तार करने के लिए नई सुविधा शुरू की है.

RBI ने 02 दिसंबर को एक आदेश जारी करते हुए HDFC बैंक की डिजिटल सेवाओं इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग और पेमेंट यूटिलिटी सर्विस पर रोक लगा दी है. इसके अलावा केंद्रीय बैंक ने HDFC कस्टमर से नए क्रेटिड कार्ड ना बनाने के लिए कहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने प्राइवेट क्षेत्र के बैंक एचडीएफसी (HDFC) को बड़ा झटका देते हुए बैंक सभी की डिजिटल सेवाओं पर रोक लगा दी है. RBI ने 02 दिसंबर को एक आदेश जारी करते हुए इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग और पेमेंट यूटिलिटी सर्विस पर रोक लगा दी है. इसके अलावा केंद्रीय बैंक ने HDFC कस्टमर को नए क्रेटिड कार्ड जारी करने पर भी रोक लगाई है. पिछले 2 साल में एचडीएफसी बैंक के ग्राहकों को डिजिटल सर्विस में कई बार दिक्कत आई है जिसकी वजह से केंद्रीय बैंक ने यह कदम उठाया है.

    बैंक ने दी स्टॉक एक्सचेंज को जानकारी
    स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में बैंक ने बताया कि 2 दिसंबर को RBI ने आदेश दिया है. आदेश में आरबीआई ने कहा है कि हाल में बैंक की इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, पेमेंट यूटिलिटीज में लगातार ढेर सारी रुकावटें आती रही हैं. पिछले दो सालों से यह चल रहा है. हाल की घटना में 21 नवंबर को बैंक की इंटरनेट बैंकिंग और पेमेंट सिस्टम में गड़बड़ी पाई गई थी. यह गड़बड़ी प्राइमरी डाटा सेंटर में पावर फेल होने के कारण हुई थी. पिछले दो सालों में बैंक के लिए यह तीसरा बड़ा झटका लगा है.





    अस्थाई तौर पर रोके डिजिटल बिजनेस की लांचिंग
    आरबीआई ने आदेश में बैंक को सलाह दी है कि वह फिलहाल अस्थाई यानी टेंपरेरी तौर पर डिजिटल बिजनेस से संबंधित सभी गतिविधियों की लांचिंग को रोक दे. एचडीएफसी बैंक अपने डिजिटल 2.0 को लांच करने की तैयारी कर रहा है. जिसमें ढेर सारे डिजिटल चैनल लांच होंगे. ऐसे में आरबीआई का यह आदेश बैंक के लिए बड़ा झटका है. इसके साथ ही अन्य सभी बिजनेस जनरेटिंग आईटी एप्लीकेशन को भी रोकने का आदेश दिया गया है. इसमें नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों को सोर्सिंग करने पर भी पाबंदी लगा दी गई है.

    ये भी पढ़ें : दावा! ATM से नहीं निकल रहे 2 हजार के नोट, RBI ने बंद की सप्लाई, जानिए इसकी पूरी सच्चाई

    आरबीआई जांच के दिए आदेश
    आरबीआई ने आदेश में कहा है कि इसके अलावा बैंक का बोर्ड इस तरह की लैप्सेस की जांच करे और इसकी जवाबदेही भी तय करे. आरबीआई ने कहा है कि उपरोक्त कदम या नियम तभी हटाए जाएंगे जब उसे बैंक की ओर से संतुष्टि मिलेगी. यानी सभी चीजें सही होंगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज