लाइव टीवी

PMC Bank ग्राहकों को दूसरा झटका, जून तक नहीं निकाल सकेंगे इससे अधिक रकम

News18Hindi
Updated: March 21, 2020, 7:56 PM IST
PMC Bank ग्राहकों को दूसरा झटका, जून तक नहीं निकाल सकेंगे इससे अधिक रकम
PMC BANK ATM

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पीएमसी बैंक पर लगे हुए प्रतिबंध को अगले 3 महीने के लिए बढ़ा दिया है. आरबीआई ने कहा है कि वो लगातार इस कोशिश में लगा है कि पीएमसी बैंक को रिकवर किया जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2020, 7:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्तीय संकट की​ स्थिति से गुजर रहे पंजाब एंड महाराष्ट्र को- ऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) पर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने प्रतिबंध को अगले 3 महीने तक बढ़ाकर 22 जून तक कर दिया है. इसके पहले 23 सिंतबर को RBI ने बैंकिंग रेग्युलेशन एक्ट, 1949 के सेक्शन के 35ए के तहत PMC Bank पर 6 महीनों का प्रतिबंध लगाया था. आरबीआई के एक नोटिस के जरिए आज जानकारी दी है.

जारी है लोन रिकवरी प्रक्रिया
RBI ने कहा, 'केंद्रीय बैंक लगातार PMC बैंक पर करीब से नजर बनाए हुए है और बैंक प्रशासन और सलाहकार समीति के साथ रेग्युलर बैठक कर रहा है. केंद्रीय लगातार इस कोशिश में है सिक्योरिटीज की बिक्री लोन रिकवरी की प्रक्रिया को बढ़ाया जाए. कानूनी प्रक्रियाओं में कई कारणों से कुछ समय लग रहा है.'

यह भी पढ़ें: कोरोना से लड़ने के लिए पतंजलि समेत इन कंपनियों ने सस्ती की रोजमर्रा की चीजें



क्यों बढ़ाई गई प्रतिबंध की अवधि
RBI ने कहा है कि कॉमर्शियल बैंक की तर्ज पर उसके पास यह अधिकार नहीं है कि वो पीएमसी बैंक के लिए कोई रिकन्सट्रक्शन प्लान लेकर आए. पीएमसी बैंक एक को-ऑपरेटिव बैंक है. हालांकि, डिपॉजिटर्स के हित और को-ऑपरेटिव बैंकिंग सेक्टर में स्थिरता लाने के लिए RBI स्टेकहोल्डर्स और अथॉरिटीज से संपर्क में है. इसी को ध्यान में रखते हुए बैंक पर प्रतिबंध की अवधि को अगले 3 महीने के लिए बढ़ाए जाने का फैसला लिया गया है.



प्रतिबंध के निर्देशों में कोई बदलाव नहीं
आरबीआई ने कहा, 'इसी के आधार पर यह नोटिफाई किया जाता है कि 23 सितंबर 2019 को पीएमसी बैंक पर लगाए गए प्रतिबंध को अगले 3 महीने के लिए बढ़ाया जा रहा है. इस प्रतिबंध की नई अवधि 23 मार्च 2020 से लेकर 22 जून 2020 तक के लिए होगी. प्रतिबंध के निर्देशों में अन्य कोई बदलाव नहीं किया गया है.'

यह भी पढ़ें: कैसे वॉट्सएप मैसेज ने तोड़ी 1 लाख करोड़ रुपये की पॉल्ट्री इंडस्ट्री की कमर!

क्या है इस प्रतिबंध का मतलब?
बता दें आरबीआई द्वारा इस प्रतिबंध को 22 जून तक बढ़ाने का मतलब है कि पीएमसी बैंक न तो किसी को कर्ज दे सकेगा और न ही डिपॉजिटर्स एक तय लिमिट से अधिक रकम की निकासी कर सकेंगे. इस अवधि के दौरान बैंक न तो कोई लोन रिन्यू कर सकेगा और न ही कहीं निवेश कर सकेगा. पीएमसी बैंक में कोई फ्रेश डिपॉजिट भी नहीं की जा सकेगी. बैंक सकुर्लर के मुताबिक, यह बैंक किसी भी देनदारी के लिए कोई पेमेंट भी नहीं कर सकेगा.

कितनी है विड्रॉल लिमिट
बता दें कि इस प्रतिबंध के लगने के बाद पिछले साल ही नवंबर में आरबीआई ने डिपॉजिटर्स के लिए विड्रॉल लिमिट को बढ़ाकर 50,000 रुपये कर दिया था. आरबीआई के मुताबिक, अभी तक पीएमसी बैंक के 78 फीसदी डिपॉजिटर्स इस स्थिति में है कि वो मौजूदा लिमिट के साथ बैंक से पूरी रकम निकाल सकें.

यह भी पढ़ें: सरकार ने तय किए सेनिटाइजर और फेस मास्क के दाम, HUL ने तुरंत किया सस्ता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 21, 2020, 7:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर