लाइव टीवी

PNB में जिस सिस्टम से हुआ था घोटाला, 19 बैंकों ने की वैसी ही गलती, RBI ने लगाया जुर्माना

News18Hindi
Updated: March 6, 2019, 12:09 PM IST
PNB में जिस सिस्टम से हुआ था घोटाला, 19 बैंकों ने की वैसी ही गलती, RBI ने लगाया जुर्माना
RBI ने SWIFT पर निर्देशों का पालन न करने का दोषी ठहराते हुए बैंकों पर कुल 40 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

RBI ने SWIFT पर निर्देशों का पालन न करने का दोषी ठहराते हुए बैंकों पर कुल 40 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 6, 2019, 12:09 PM IST
  • Share this:
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कम से कम 19 बड़े बैंको पर जुर्माना लगाया है. जिन बैंकों पर जुर्माना लगाया गया है उसमें देश का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) और आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) शामिल है. इन बैंकों पर स्विफ्ट मैसेजिंग सॉफ्टवेयर (SWIFT) पर निर्देशों का पालन न करने का दोषी ठहराते हुए कुल 40 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना इसलिए भी अहम है, क्योंकि स्विफ्ट मैसेजिंग सॉफ्टवेयर में ही गड़बड़ी कर नीरव मोदी व मेहुल चौकसी ने पीएनबी में 14 हजार करोड़ रुपए के घोटाले को अंजाम दिया था. (ये भी पढ़ें: SBI की खास सुविधा: अब घर बैठे बनवा सकते हैं डिमांड ड्राफ्ट, ये है पूरा प्रोसेस)

आपको बता दें कि शनिवार को चार बैंकों – SBI, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया , देना बैंक और आईडीबीआई पर भी RBI ने विभिन्न दिशा-निर्देशों का पालन ना करने पर जुर्माना लगाया था. यूनियन बैंक पर 3 करोड़ रुपये, देना बैंक पर 2 करोड़ रुपये और IDBI और SBI पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया.

भारतीय रिजर्व बैंक ने स्विफ्ट मैसेजिंग सॉफ्टवेयर पर निर्देशों का पालन नहीं करने के लिए यस बैंक पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.यस बैंक ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में कहा कि “RBI ने SWIFT से संबंधित परिचालन नियंत्रणों को लागू करने को लेकर निर्देशों का पालन न करने के लिए बैंक पर 1 करोड़ रुपये का कुल जुर्माना लगाया है.
ये भी पढ़ें: यह सरकारी कंपनी बिना सैलरी वाले को देगी होम लोन, 75 साल की उम्र तक चुकाने का मिलेगा मौका



कर्नाटक बैंक- कर्नाटक बैंक ने शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा है कि स्विफ्ट से जुड़े परिचालन नियंत्रणों के क्रियान्यन में देरी को लेकर रिजर्व बैंक ने बैंक पर कुल चार करोड़ रुपये का रुपये का जुर्माना लगाया है.

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया- यूनाइटेड बैंक ने शेयर बाजारों को दी जानकारी में कहा, रिजर्व बैंक ने उसपर 3 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. इसे 14 दिन के भीतर जमा करना है. स्विफ्ट संबंधित परिचालन नियंत्रण को लागू करने तथा उसे सुदृढ़ बनाने में देरी को लेकर आरबीआई के निर्देश का समयबद्ध तरीके से अनुपालन नहीं करने को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है.ये भी पढ़ें: Forbes List: दुनिया के 13वें सबसे अमीर शख्स बने मुकेश अंबानी, पहले नंबर पर हैं जेफ बेजोस

इंडियन ओवरसीज बैंक और करूर वैश्य बैंक- सार्वजनिक क्षेत्र के ही आईओबी ने कहा कि उस पर 20 फरवरी 2018 के आरबीआई के निर्देश का अनुपालन नहीं करने को लेकर 3 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. आईओबी ने कहा, बैंक ने इस प्रकार की स्थिति से बचने के लिये आंतरिक नियंत्रण व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिये जरूरी कदम उठाये हैं.निजी क्षेत्र के करूर वैश्य बैंक ने कहा कि आरबीआई ने स्विफ्ट परिचालन से संबंधित निर्देशों का अनुपालन नहीं करने को लेकर उसपर एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

ये भी पढ़ें: ग्रेच्युटी की सीमा बढ़कर 20 लाख हुई, जेटली ने कहा- इन कर्मचारियों को होगा फायदा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 6, 2019, 12:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर