• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • नोटबंदी से कितनी ब्लैकमनी खत्म हुई, RBI को नहीं है मालूम

नोटबंदी से कितनी ब्लैकमनी खत्म हुई, RBI को नहीं है मालूम

कारोबारी और बैंकों की मिलीभगत को खत्म करने की कोशिश : उर्जित पटेल

कारोबारी और बैंकों की मिलीभगत को खत्म करने की कोशिश : उर्जित पटेल

नोटबंदी से कितनी ब्लैकमनी खत्म हुई, RBI को नहीं है मालूम

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) ने संसदीय समिति से कहा है कि उसके पास इस बारे में 'कोई सूचना' नहीं है कि नोटबंदी से कितनी ब्लैकमनी खत्म हुई है. साथ ही, आरबीआई ने कहा कि उसे यह भी पता नहीं है कि 500 और 1000 रुपए के नोटों को बंद करने के बाद नोटों को बदलने की प्रक्रिया में कितनी बेहिसाबी नकदी को वैध धन में बदला गया है. आपको बता दें कि पिछले सप्ताह रिजर्व बैंक ने नोटबंदी के बाद वापस लौटे नोटों का आंकड़ा सार्वजनिक किया था. इसमें कहा गया है कि नोटबंदी के बाद चलन से बाहर किए गए नोटों में से 15.28 लाख करोड़ रुपए सिस्टम में वापस लौटे हैं.

    आरबीआई को नहीं है मालूम

    • नोटबंदी से कितनी ब्लैकमनी खत्म हुए इस सवाल का जवाब आरबीआई के पास नहीं है. केंद्रीय बैंक ने कहा कि उसके पास इसकी कोई सूचना नहीं है. कितनी ब्लैकमनी पुराने नोटों को बदलने की प्रक्रिया में सफेद हुआ है, इस पर भी रिजर्व बैंक ने यही जवाब दिया है कि उसके पास इसकी कोई सूचना नहीं है.

    • आरबीआई ने कहा कि उसके पास इस बात की भी सूचना नहीं है कि क्या नियमित अंतराल के बाद नोटबंदी की किसी तरह की योजना है. केंद्रीय बैंक को नोटबंदी के आंकड़ों में देरी पर विपक्षी दलों की आलोचनाओं का सामना करना पड़ा. हालांकि, सरकार लगातार यह दावा कर रही है कि 8 नवंबर, 2016 को बड़े मूल्य के नोटों को बंद करने के फैसले से ब्लैकमनी पर अंकुश लगाने में मदद मिली है और साथ ही इसके अन्य फायदे भी हुए हैं.


    अभी भी करंसी चेस्ट में पड़े हैं पुराने नोट 
    केंद्रीय बैंक ने हाल में नोटबंदी के बाद के आंकड़े वित्त पर संसद की स्थाई समिति से भी साझा किए हैं. समिति के सवालों के जवाब में रिजर्व बैंक ने कहा कि वापस लौटे नोटों के सत्यापन की प्रक्रिया अभी जारी है. वहीं, बैंकों और डाकघरों द्वारा स्वीकार किए गए 500 और 1000 के कुछ पुराने नोट अभी भी करंसी चेस्ट में पड़े हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज