मुत्थूट फाइनेंस को लगा झटका, RBI ने लगाया 10 लाख रुपये का जुर्माना

भारतीय रिजर्व बैंक
भारतीय रिजर्व बैंक

आरबीआई (RBI) ने गुरुवार को कहा कि उसने एर्नाकुलम स्थित मुत्थूट फाइनेंस (Muthoot Finance) पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 19, 2020, 11:27 PM IST
  • Share this:
मुंबई. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने गुरुवार को कहा कि उसने एर्नाकुलम स्थित मुत्थूट फाइनेंस (Muthoot Finance) पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना सोने के बदले कर्ज मामले में 5 लाख रुपये से अधिक के कर्ज को लेकर ऋण-मूल्य अनुपात (Loan to Value Ratio) और कर्जदार के पैन (PAN) कार्ड की कॉपी लेने को लेकर जारी दिशानिर्देशा का अनुपालन नहीं करने को लेकर लगाया गया है.

मन्नपुरम फाइनेंस पर भी 5 लाख रुपये का जुर्माना 
केंद्रीय बैंक ने मन्नपुरम फाइनेंस (Manappuram Finance), त्रिचुर पर भी 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना स्वर्ण आभूषण के मालिकाना हक के सत्यापन संबंधी दिशानिर्देशों का अनुपालन नहीं करने को लेकर लगाया गया है.

रिजर्व बैंक ने मुत्थूट फाइनेंस के बारे में कहा कि कंपनी की 31 मार्च, 2018 और 31 मार्च 2019 की स्थिति के अनुसार वित्तीय स्थिति की जांच में दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने की बात सामने आई है. इसी प्रकार, मन्नपुरम फाइनेंस के मामले में आरबीआई ने कहा कि 31 मार्च, 2019 की स्थिति के अनुसार कंपनी की जांच में दिशानिर्देशों के उल्लंघन की बात सामने आई.
PNB पर 1 करोड़ का जुर्माना


हाल ही में आरबीआई ने भुगतान एवं निपटान प्रणाली कानून के उल्लंघन को लेकर सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक पर एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया थां. शेयर बाजारों को भेजी सूचना में पीएनबी ने यह जानकारी दी थी. सूचना में कहा गया था, ''रिजर्व बैंक ने पाया कि बैंक, ड्रक पीएनबी बैंक लि. भूटान (बैंक की अंतरराष्ट्रीय अनुषंगी) के साथ एक द्विपक्षीय साझा एटीएम व्यवस्था का परिचालन कर रहा है, जबकि उसने इसके लिए केंद्रीय बैंक की अनुमति नहीं ली है.''

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया पर लगाया था 50 लाख रुपये का जुर्माना
हाल ही में आरबीआई ने कहा था कि उसने सार्वजनिक क्षेत्र के सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना कुछ आवास ऋणों को लेकर उसके निर्देशों का अनुपालन नहीं करने को लेकर लगाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज