आपके लोन पर EMI नहीं देने की छूट को RBI तीन महीने के लिए और बढ़ा सकता है!

आपके लोन पर EMI नहीं देने की छूट को RBI तीन महीने के लिए और बढ़ा सकता है!
आरबीआई एक बार फिर लोन पर ईएमआई छूट को बढ़ा सकता है

लोन पर मिलने वाले मोरेटोरियम पीरियड (Moratorium Period) को RBI 3 महीनों के लिए बढ़ा सकता है. इसके पहले RBI ने कहा था कि कोई भी वित्तीय संस्थान या बैंक मार्च-मई के बीच ग्राहकों से लोन की ईएमआई नहीं वसूलेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. लॉकडाउन बढ़ने के बाद अब भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) लोन पर मोरे​टोरियम की अवधि (Moratorium Period) को तीन महीने के लिए बढ़ाने पर विचार कर रहा है. कोविड-19 की वजह से आम लोगों और इंडस्ट्रीज पर पड़ने वाले असर को देखते हुए RBI इस फैसले पर विचार कर रहा है. इस बारे में RBI को इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) समेत कई पक्षों से सुझाव आए थे. न्यूज एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है.

27 मार्च को आरबीआई ने किया था ऐलान
​शनिवार को केंद्र सरकार ने दो सप्ताह के लिए लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला लिया था. सूत्रों ने बताया कि कई ईकाईयों और व्यक्तियों को 31 मई तक अपने लोन सर्विस कर पाने में परेशानी होगी. RBI ने मार्च में ही तीन महीने के लिए लोन EMI न देने की छूट दी थी, जोकि 31 मई को खत्म हो जाएगा. RBI ने 27 मार्च को इसका ऐलान किया था.

यह भी पढ़ें: SBI ने लॉकडाउन के बीच करोड़ों ग्राहकों को किया अलर्ट! SMS खाली कर सकता है खाता
कर्ज लेने वालों को मिल सकती है राहत


एक सरकारी बैंक के अधिकारी ने बताया कि अगर RBI अगले 3 महीने के लिए मोरेटोरियम पीरियड को बढ़ा देता है तो यह कई लोगों के लिए राहत लेकर आएगा. इससे मौजूद संकट की स्थिति में बैंकों से लेकर लेनदारों तक को राहत मिल सकेगी.

1 मार्च से प्रभावी 3 महीनों के लिए मोरेटोरियम
RBI ने कहा था, 'सभी कॉमर्शियल बैंक (क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, स्मॉल फाइनेंस बैंक और लोकल एरिया बैंक समेत), सहकारी बैंकों, सभी वित्तीय संस्थानों, गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थानों और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के लेनदारों को तीन महीने तक लोन की EMI नहीं जमा करने की छूट दी जाएगी. यह 1 मार्च 2020 से प्रभावी होगा. '

यह भी पढ़ें: श्रमिक स्पेशल ​ट्रेनों में किसे मिलेगा टिकट बुक करने का मौका? ये है प्रोसेस

RBI ने कहा था कि इन तीन महीने को लोन की पूरी अवधि में एडजस्ट किया जाएगा. RBI द्वारा इस कदम के बाद ग्राहकों को बैंक अकाउंट से तीने महीने के लिए EMI की कटौती नहीं की जा रही है. 3 महीने की इस अवधि के समाप्त होने के बाद लेनदारों को EMI फिर से शुरू हो जाएगी.

बता दें कि शनिवार को RBI गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर बैंकों के प्रमुखों से बात की है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दो हिस्सों में हुए इस बैठक में उन्होंने लोन मोरेटोरियम को लेकर भी चर्चा की.

यह भी पढ़ें:  क्या लॉकडाउन में सभी राशन कार्डधारकों को मिलेंगे 50 हजार रुपये? जानें सच्चाई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading