ATM और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने का नया नियम लागू, जानें यहां

hindi.moneycontrol.com
Updated: September 4, 2019, 11:46 AM IST
ATM और क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने का नया नियम लागू, जानें यहां
कस्टमर्स को क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए ई-मैंडेट फैसिलिटी

Reserve Bank of India ने बैंकों को अब अपने कस्टमर्स को क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए ई-मैंडेट फैसिलिटी देने को कहा है. ये फैसिलिटी छोटे अमाउंट वाले रिकरिंग यानी नियमित तौर पर होने वाले ट्रांजैक्शंस के लिए होगी.

  • Share this:
1 सितंबर, 2019 से क्रेडिट-डेबिट कार्ड से पेमेंट करना ज्यादा आसान हो गया है. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने बैंकों को अब अपने कस्टमर्स को क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए ई-मैंडेट फैसिलिटी देने को कहा है. ये फैसिलिटी छोटे अमाउंट वाले रिकरिंग यानी नियमित तौर पर होने वाले ट्रांजैक्शंस के लिए होगी. क्रेडिट और डेबिट कार्ड को लेकर यह नया नियम 1 सितंबर, 2019 से लागू हो चुका है. अब तक यह फैसिलिटी बैंक अकाउंट्स के लिए उपलब्ध थी, जिसके तहत अकाउंट होल्डर अपने अकाउंट से एक निर्धारित राशि हर महीने डेबिट होने की परमिशन दे सकता था.

अब यह ई-मैंडेट सुविधा सभी तरह के डेबिट, क्रेडिट और प्रीपेड पेमेंट इन्स्ट्रूमेंट (ऑनलाइन वॉलेट्स भी) के लिए उपलब्ध होगी. RBI के सर्कुलर के मुताबिक, क्रेडिट और डेबिट कार्डहोल्डर किसी भी ट्रांजैक्शन के लिए बैंक को अपना ई-मैंडेट यानी अपनी परमिशन दे देंगे, जिसके बाद तयशुदा वक्त पर निर्धारित अमाउंट अकाउंट से डेबिट हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें: SBI ग्राहकों को देगी ये नई सर्विस, फ्री मिलेगा 2 लाख का बीमा

लेकिन ध्यान रखें कि यह सुविधा बस रिकरिंग ट्रांजैक्शन यानी नियमित तौर पर होने वाले ट्रांजैक्शन के लिए उपलब्ध होगी, आप इसे बस एक बार होने वाले किसी ट्रांजैक्शन लिए इस्तेमाल नहीं कर सकते.

आपको क्या करना है?
अगर आप इस सुविधा का फायदा उठाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए AFA (Additional factor of authentication) के साथ वन-टाइम रजिस्ट्रेशन प्रोसेस से गुजरना होगा. ई-मैंडेट से पहली बार रिकरिंग ट्रांजैक्शन करने पर AFA का वैलिडेशन जरूरी होगा. ई-मैंडेट से रिकरिंग ट्रांजैक्शन भी उन्हीं कार्ड्स के लिए होंगे, जो रजिस्टर्ड हैं और उनसे ऑथेंटिकेशन के बाद पहला ट्रांजैक्शन हो चुका है.

ये भी पढ़ें: रेल टिकट बुक करने के बाद भी ऐसे बदल सकते हैं सफर की तारीख

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 11:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...