लाइव टीवी

बैंकिंग सिस्टम में कैश बढ़ाने की कोशिश, रेपो ऑक्शन के जरिए बैंकों को ₹11,772 करोड़ देगा RBI

पीटीआई
Updated: March 26, 2020, 11:54 PM IST
बैंकिंग सिस्टम में कैश बढ़ाने की कोशिश, रेपो ऑक्शन के जरिए बैंकों को ₹11,772 करोड़ देगा RBI
भारतीय रिजर्व बैंक

RBI ने वेरिएबल रेट रेपो ऑक्शन के जरिए 11,772 करोड़ रुपये देने का ऑफर दिया है. इस ऑक्शन के पहले RBI ने ऐलान किए गए 25,000 की रकम को बढ़ाकर 50,000 रुपये कर दिया था.

  • Share this:
मुंबई. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने गुरुवार को बैंकों को 12 दिन के वेरिएबल रेट रेपो ऑक्शन (Variable Rate Repo Auction) के जरिए 11,772 करोड़ रुपये देने का ऑफर दिया है. इस ऑक्शन के पहले RBI ने ऐलान किए गए 25,000 की रकम को बढ़ाकर 50,000 रुपये कर दिया था. दरअसल, RBI इस कदम के जरिए बैंकिंग सिस्टम में कैश बढ़ाने का प्रयास कर रही है.

इस ऑक्शन में, केंद्रीय बैंक को 11,772 करोड़ रुपये बिड मिली और पूरी रकम को 5.16 फीसदी की कट ऑफ रेट पर मुहैया कराया जाएगा. RBI द्वारा जारी बयान में कहा गया था अन्य योग्य प्रतिभागियों के साथ ही स्पेशल केस के तौर पर स्टैंडअलोन प्राइमरी डीलर्स यानी एसपीडीज को भी ऑक्शन में भाग लेने का मौका दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: PM-Kisan Scheme: बड़ा फैसला, अप्रैल में इस समय किसानों को मिलेंगे 2000 रुपये

वित्तीय हालत पर COVID-19 का व्यापक असर



RBI ने इस ऑक्शन को 30 मई तक बढ़ा दिया है. यह फैसला मौजूदा वित्तीय हालात को देखते हुए लिया गया है. दअरसल, COVID-19 का वित्तीय हालत पर व्यापक असर पड़ने की आशंका है. 31 मार्च को RBI 25,000 करोड़ रुपये की एक अन्य ऑक्शन करेगी.

क्या होता है रेपो ऑक्शन?
RBI बैंकिंग सिस्टम में कैश बढ़ाने के लिए रेपो ऑक्शन करता है. इस प्रक्रिया के तहत एक तय दर पर कॉमर्शियल बैंकों को RBI कैश देता है. बदले में ये कॉमर्शियल बैंक कोलेटरल के तौर पर RBI के पास सरकारी और लिस्टेड कॉरपोरेट बॉन्ड्स को रखते हैं.

यह भी पढ़ें: 80 करोड़ लोगों को 3 महीने तक 5 किलो अनाज और 1 किलो दाल मुफ्त देगी सरकार

20.50 करोड़ महिलाओं के खाते में सरकार हर महीने 500 रुपये ट्रांसफर करेगी

बंद हो सकतेे हैं अधिकतर बैंक, कैश विड्रॉल के लिए नई व्यवस्था पर विचार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 11:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर