RBI ने बैंक ऑफ महाराष्ट्र को दिया झटका, ₹7360 करोड़ के घाटे का सेटलमेंट प्रस्ताव किया खारिज

RBI ने बैंक ऑफ महाराष्ट्र को दिया झटका, ₹7360 करोड़ के घाटे का सेटलमेंट प्रस्ताव किया खारिज
बैंक ऑफ महाराष्ट्र के ₹7360 करोड़ के घाटे के निपटान प्रस्ताव खारिज

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ महाराष्ट्र (BOM) के कुल जमा 7,360 करोड़ रुपये के घाटे को आरक्षित पड़े धन से ‘निपटान’ (settle) के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ महाराष्ट्र (BOM) के कुल जमा 7,360 करोड़ रुपये के घाटे को आरक्षित पड़े धन से ‘निपटान’ (settle) के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है. बीओएम ने अपने शेयर प्रीमियम खाते (Share Premium Account)  के शेष और राजस्व आरक्षित खाते (revenue reserve account) से इस घाटे को समायोजित करने का प्रस्ताव किया था.

बैंक के निदेशक मंडल और शेयरधारकों ने 31 मार्च, 2019 को 7,360.29 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच चुके घाटे को शेयर प्रीमियम खाते में शेष और राजस्व आरक्षित खाते से निपटान के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी.

2 फीसदी टूटा शेयर
बैंक ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि रिजर्व बैंक ने 27 सितंबर, 2019 को पत्र भेजकर इस आग्रह को मानने में अक्षमता जताई है. बुधवार को बंबई शेयर बाजार (BSE) में बीओएम का शेयर 2 प्रतिशत टूटकर 10.80 रुपये पर बंद हुआ.
ये भी पढ़ें: Railway की नई सुविधा: अब सामान चोरी होने पर चलती ट्रेन में कर सकेंगे FIR!



PMC बैंक पर रोक
बता दें कि आरबीआई ने 23 सितंबर को PMC बैंक की गतिविधियों पर पूरी तरह 6 महीने के लिए रोक लगा दी है और अगले 6 महीनों के लिए एडमिनिस्ट्रेटर नियुक्त किया था. इसके साथ ही ग्राहकों के पैसे निकालने पर भी पाबंदी लगा दी गई थी. पहले 6 महीने में हर खाते से सिर्फ 1000 रुपये निकालने की इजाजत थी. इसके बाद इसे बढ़ाकर 10,000 रुपये और फिर बाद में उसे 25,000 रुपये कर दिया. PMC बैंक के मामले में 60 फीसदी से ज्यादा ग्राहकों के खाते में करीब 10,000 रुपये हैं.

ये भी पढ़ें: 1 जनवरी तक नहीं किए ये काम तो फ्रीज हो जाएगा आपका खाता, नहीं निकाल पाएंगे पैसे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज