होम /न्यूज /व्यवसाय /नहीं होगी छुट्टे पैसों की किल्‍लत! छोटे नोटों के लिए लग सकते हैं स्‍पेशल ATM, आरबीआई कर रहा है तैयारी

नहीं होगी छुट्टे पैसों की किल्‍लत! छोटे नोटों के लिए लग सकते हैं स्‍पेशल ATM, आरबीआई कर रहा है तैयारी

छोटे नोट कम उपलब्‍ध होने से परेशानी हो रही है.

छोटे नोट कम उपलब्‍ध होने से परेशानी हो रही है.

छोटे नोट नहीं मिलने की कई शिकायतें रिजर्व बैंक (RBI) तक पहुंची हैं. रिजर्व बैंक सिर्फ एटीएम (ATM) में छोटे नोट की संख्य ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

छोटे नोट नहीं मिलने की कई शिकायतें रिजर्व बैंक तक पहुंची हैं.
आरबीआई एटीएम मशीनों में छोटे नोटों की संख्‍या बढाने पर विचार कर रहा है.
यूपीआई आधारित स्‍पेशल एटीएम भी लगाए जा सकते हैं.

नई दिल्‍ली. बाजार में छोटे नोटों (Currency Notes) की कमी से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. छोटे दुकानदारों और रेहड़ी लगाकर सामान बेचने वालों को खुले पैसे न होने से बड़ी दिक्‍कत होती है. लोगों का हो रही इस परेशानी से भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भी अवगत है. अब इस समस्‍या के समाधान के लिए रिजर्व बैंक गंभीर हो गया है. रिजर्व बैंक एटीएम (ATM) में छोटे नोटों की संख्‍या बढ़ाने के साथ ही स्‍पेशल एटीएम लगाने पर भी विचार कर रहा है.

cnbctv18हिन्‍दी की एक रिपोर्ट के मुताबिक,  छोटे नोट नहीं मिलने की कई शिकायतें रिजर्व बैंक तक पहुंची हैं. रिजर्व बैंक सिर्फ एटीएम में छोटे नोट की संख्या ही बढ़ाने पर विचार नहीं कर रहा है बल्कि इसके अलावा भी कई विकल्पों पर भी मंथन किया जा रहा है. खुले नोटों को लेकर आ रही समस्या पर इस महीने रिजर्व बैंक के अधिकारियों की अहम बैठक हुई. इस बैठक में कई सुझाव दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें-   Tax Planning: धारा 80C के अलावा इन तरीकों से भी बचा सकते हैं टैक्स, जानिए कैसे मिलेगा फायदा

लग सकते हैं स्‍पेशल ATM
सूत्रों द्वारा जानकारी के मुताबिक आरबीआई बाजार में छोटे नोटों की कमी का दूर करने के लिए यूपीआई पर आधारित एटीएम लगाने पर भी विचार कर रही है. इन यूपीआई आधारित एटीएम से आम लोग छोटे नोट निकाल सकेंगे. इसके अलावा आरबीआई मौजूदा एटीएम में भी छोटे नोटों की संख्‍या बढ़ाने का आदेश भी जल्‍द ही बैंकों को दे सकता है.

नोटबंदी के बाद से ही दिक्‍कत
देश में छोटे नोटों की किल्‍लत नोटबंदी के समय से शुरू हुई थी. वह अब तक बरकरार है. खुले पैसों की दिक्‍कत उन लोगों को ज्‍यादा आती है, जो ऑनलाइन लेन-देन नहीं करते हैं. हालांकि, देश में ऑनलाइन पेमेंट का चलन बढ़ने से थोड़ी राहत मिली है, लेकिन समस्‍या का पूरा समाधान नहीं हुआ है. एटीएम से नकदी निकालने पर भी 500 और 2000 के नोट ही ज्‍यादा दिए जाते हैं. 100 रुपये के नोट काफी कम निकलते हैं. बाजार में 10, 20 और 50 रुपये के नोटों की ज्‍यादा किल्‍लत है. इसी को देखते हुए अब आरबीआई छोटों नोटों के लिए स्‍पेशल एटीएम लगाने पर विचार कर रहा है.

Tags: Bank ATM, Business news in hindi, Indian currency, Money, RBI

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें