RBI ने धोखाधड़ी को लेकर किया आगाह! सतर्क रहें वरना बैंक खाता हो जाएगा जीरो

RBI ने धोखाधड़ी को लेकर किया आगाह
RBI ने धोखाधड़ी को लेकर किया आगाह

आरबीआई (RBI) ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा है कि ग्राहक किसी भी फोन कॉल (Phone Call), ईमेल (email), एसएमएस (SMS) और वेब-लिंक (Web-Link) पर अपनी व्यक्तिगत विवरण न दें. RBI ने कहा कि संदेह हो तो अपने बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर ग्राहक सहायता नंबर जांच लें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 3:04 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India- RBI) लोगों को साइबर फ्रॉड को लेकर आगाह किया है. आरबीआई (RBI) ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा है कि ग्राहक किसी भी फोन कॉल (Phone Call), ईमेल (email), एसएमएस (SMS) और वेब-लिंक (Web-Link) पर अपनी व्यक्तिगत विवरण न दें. RBI ने कहा कि संदेह हो तो अपने बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर ग्राहक सहायता नंबर जांच लें. RBI कहता है जानकार बनिए, सतर्क रहिए!

RBI ने कहा, साइबर धोखाधड़ी चुटकियों में हो जाती है. अपनी निजी जानकारी जैसे कि कार्ड डिटेल्स, बैंक खाता (Bank Account), आधार (Aadhaar), पैन (PAN) आदि के बारे में किसी को कभी न बताएं. ट्वीट के जरिए आरबीआई ने कहा है कि अगर आपके पास किसी अंजान नंबर से फोन आता है या कोई आपसे बैंक खाता नंबर पूछता है या फिर आपसे केवाईसी की जानकारी चाहता है तो आप तुरंत फोन काट दें.

यह भी पढ़ें- इस सरकारी बैंक ने SBI से भी सस्ता किया Home Loan, जानिए कहां है सबसे कम ब्याज?





1.48 लाख करोड़ रुपये की धोखाधड़ी
आरटीआई (RTI-Right to Information Act) से मिले आंकड़ों पर गौर करें, तो पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में सार्वजनिक क्षेत्र (Government Banks) के तत्कालीन 18 बैंकों द्वारा कुल 1,48,428 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 12,461 मामले सूचित किये गये हैं. बीते वित्त वर्ष में धोखाधड़ी का सबसे बड़ा शिकार सरकारी क्षेत्र का शीर्ष बैंक एसबीआई यानी भारतीय स्टेट बैंक (SBI-State Bank of India) बना है. इस अवधि के दौरान एसबीआई में 44,612.93 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से जुड़े 6,964 मामले सूचित किये गए. यह रकम बीते वित्त वर्ष के दौरान 18 सरकारी बैंकों में धोखाधड़ी की जद में आयी कुल धनराशि का करीब 30 फीसदी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज