• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • RBI के कदम से नौकरियों को बचाने में मिलेगी मदद! आम आदमी को मिलेंगे ये 5 बड़े फायदे

RBI के कदम से नौकरियों को बचाने में मिलेगी मदद! आम आदमी को मिलेंगे ये 5 बड़े फायदे

एस्कॉर्ट सिक्योरिटी के रिसर्च हेड आसिफ इकबाल के मुताबिक आरबीआई (RBI) से सरकार (Central Government) को मिले पैसे से आम आदमी को काफी राहत मिलेगी. लोगों की नौकरियां नहीं जाएंगी

  • Share this:
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने केंद्र सरकार (Central Government) को डिविडेंड और सरप्लस फंड की मदद से 1.76 लाख करोड़ रुपये ट्रांसफर करने का फैसला किया है. केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि आरबीआई निदेशक मंडल के अनुसार 1,76,051 करोड़ रुपये सरकार को ट्रांसफर किए जाएंगे इसमें 2018-19 के लिए 1,23,414 करोड़ रुपये के सरप्लस और 52,637 करोड़ रुपये अतिरिक्त प्रावधान के रूप में चिन्हित किया गया है.

आइए जानते हैं सरकार को मिले इस फंड से आपको कैसे हो सकता है फायदा?

(1) नहीं जाएंगी नौकरियां-एस्कॉर्ट सिक्योरिटी के रिसर्च हेड आसिफ इकबाल के मुताबिक आरबीआई से सरकार को मिले पैसे से आम आदमी को काफी राहत मिलेगी. लोगों की नौकरियां नहीं जाएंगी. बता दें कि ऑटो सेक्टर में मंदी की वजह से 3 लाख से अधिक नौकरियां जा चुकी हैं. ऐसे में सरकार राहत पैकेज देती है तो लोगों की नौकरियां जाने से बच जाएंगी.

ये भी पढ़ें: अपनी कंगाली के लिए भी भारत को दोष दे रहा है पाकिस्तान

(2) शेयर बाजार में बनेगा पैसा- एक्सपर्ट की मानें तो राहत पैकेज की घोषणा और बाजार में लिक्विडिटी बढ़ने से शेयर बाजार में औऱ तेजी देखने को मिलेगी. सोमवार को शेयर बाजार में आरबीआई द्वारा सरकार को सरप्लस मिलने की संभावना से जोरदार तेजी देखने को मिली. बाजार में तेजी से इसमें निवेश करने वालों को मोटा मुनाफा मिलेगा.

(3) म्यूचुअल फंड में मिलेगा बेहतर रिटर्न- म्यूचुअल फंड में निवेश करने से बेहतर रिटर्न मिलेगा. सरकार इस पैसे को वित्तीय संकट से जूझ रहे सेक्टर को राहत दे सकती है. इसका असर स्टॉक मार्केट में दिखेगा और मार्केट में तेजी से म्यूचुअल फंड के निवेशकों को फायदा होगा. उनको यहां रिटर्न ज्यादा मिलने की संभावना बढ़ जाएगी.

(4) सस्ते मिलेंगे कर्ज-RBI द्वारा मिले सरप्लस फंड को सरकार बैंकों में डालेगी. सरकार पहले ही सरकारी बैंकों में 70 हजार करोड़ रुपये की पूंजी डालने की घोषणा कर चुकी हैं. बैंकों में पूंजी डालने से लिक्विडिटी बढ़ेगी. वित्तीय संकट से जूझ रहे बैंकों को राहत मिलेगी. सरप्लस कैश होने पर बैंक सस्ता कर्ज देते हैं. इससे वस्तुओं और सेवाओं की मांग बढ़ती है यानी खपत में बढ़ोतरी होती है, जो देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है.

ये भी पढ़ें: मंदी से निपटने के लिए मोदी सरकार के साथ आया RBI, देगा 1.76 लाख करोड़ रुपए की मदद

(5) घर खरीदारों को मिल सकती है राहत-रियल एस्टेट सेक्टर के लिए सरकार सरप्लस फंड का इस्तेमाल कर सकती है. देशभर में आम्रपाली, यूनिटेक और जेपी जैसे लटके प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए सरकार वित्तीय मदद दे सकती है. इससे लोगों को उनका आशियाना मिल जाएगा जिसके पाने की आस वर्षों से लगाए बैठे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज