Home /News /business /

देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ! RBI वर्किंग ग्रुप ने की ये सिफारिश

देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ! RBI वर्किंग ग्रुप ने की ये सिफारिश

भारतीय रिजर्व बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक

निजी क्षेत्र के बैंकों में मालिकाना हक संबंधी गाइडलाइंस और कॉरपोरेट स्ट्रक्चर को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक के इंटर्नल वर्किंग ग्रुप (Internal Working Group of RBI) की रिपोर्ट को आरबीआई (RBI) ने जारी किया है.

    नई दिल्ली. निजी क्षेत्र के बैंकों में मालिकाना हक संबंधी गाइडलाइंस और कॉरपोरेट स्ट्रक्चर को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक के इंटर्नल वर्किंग ग्रुप (Internal Working Group of RBI) की रिपोर्ट को आरबीआई (RBI) ने जारी किया है. इससे देश में नए निजी बैंक खुलने का रास्ता साफ होता दिख रहा है. बता दें कि 12 जून 2020 को आरबीआई ने इंटर्नल वर्किंग ग्रुप का गठन किया था.

    NBFC को बैंक में बदलने की सिफारिश
    इंटर्नल वर्किंग ग्रुप ने सुझाव दिया कि बड़ी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (Non-Banking Financial Company) कुछ मानदंडों को पूरा करने पर  बैंक में बदला जा सकता है. इंटर्नल वर्किंग ग्रुप की सिफारिश के मुताबिक, वैसे एनबीएफसी (NBFC) जिनका पूंजी 50,000 करोड़ रुपये से अधिक है और 10 साल कारोबार में पूरा हो चुका है, उनको बैंक में बदला जा सकता है.

    ये भी पढ़ें- पटरी पर लौट रही इकोनॉमी! आम आदमी से लेकर मोदी सरकार को भी खुश कर देंगे ये आंकड़े

    3 साल पूरा कर चुके पेमेंट्स बैंक को स्मॉल फाइनेंस बैंक में बदलने का सुझाव
    भारतीय रिजर्व बैंक के इंटर्नल वर्किंग ग्रुप ने सुझाव दिया है कि पेमेंट्स बैंक जिन्हें 3 साल का अनुभव है, उन्हें स्मॉल फाइनेंस बैंक में बदला जा सकता है.

    ये भी पढ़ें- लक्ष्मी विलास बैंक के ग्राहकों के लिए अच्‍छी खबर! RBI ने कहा - डिपॉजिटर्स को लौटाने के लिए है पर्याप्त रकम

    इंटर्नल वर्किंग ग्रुप की अन्य सिफारिश
    >> बैंक के प्रोमोटर की हिस्सेदारी को मौजूदा 15 फीसदी से बढ़ाकर 26 फीसदी करने की सिफारिश
    >> बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट 1949 में संशोधन के बाद बड़े कॉरपोरेट और इंडस्ट्रियल हाउसेस को बैंकों के प्रोमोटर के तौर पर इजाजत दिया जाए.
    >> नए बैंकों के लिए जरूरी पूंजी को 500 करोड़ से बढ़ाकर 1000 करोड़ रुपये किया जाना चाहिए.
    >> स्मॉल फाइनेंस बैंक के लिए पूंजी को 200 करोड़ से बढ़ाकर 300 करोड़ रुपये किया जाना चाहिए.

    Tags: NBFCs, Payments banks, RBI, Reserve bank of india

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर