Real Estate Updates: होम लोन सस्ता लेकिन सीमेंट व स्टील की वजह से मकानों की कीमतें 10 से 20 फीसदी बढ़ी

Real Estate Updates: सीमेंट और इस्पात के दाम में 50 फीसदी तक बढ़ोतरी हुई.

Real Estate Updates: घर की मांग में आई तेजी. इसका फायदा उठाने के लिए डेवलपरों ने भी दामों में इजाफा करना शुरू कर दिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. होम लोन की दरें ऐतिहासिक रूप से सबसे कम स्तर पर पहुंच गई है. लेकिन इस कमी का फायदा मकान खरीदारों को नहीं मिल पा रहा है. वजह है, मकानों के दाम बढ़ना. सीमेंट व स्टील जैसे कई उत्पादों की कीमतें दोगुनी हो गई है. लिहाजा, बिल्डरों ने इसकी भरपाई के लिए मकानों के दाम 10 से 20 फीसदी बढ़ा दिए है.
    रियल एस्टेट के जानकार मनाेज सिंह मीक बताते हैं कि 2014-15 के बाद से ही मकानों की कीमतें स्थिर थीं. कई शहरों में तो प्रॉपर्टी के दाम में गिर गए थे. इसी बीच नोटबंदी, रेरा और जीएसटी की वजह से नए प्रोजेक्ट्स न के बराबर आए. जबकि, पुराने प्रोजेक्ट्स की अधिकांश प्रॉपटी बुक हो गई है. अब कोरोना की वजह से लोगों को खुद के घर की अहमियत भी पता चली है. मीक के मुताबिक इन सबके चलते बाजार में मांग क्रिएट होने लगी है. डेवलपर इस मांग को पूरी करने में लगे है लेकिन सीमेंट व स्टील के दामों में बढ़ोतरी से मकान निर्माण की लागत बढ़ गई है.
    यह भी पढ़ें :  इनकम टैक्स अलर्ट : फटाफट कर लें यह काम, नहीं तो रूक जाएगी आपकी सैलरी

    कंस्ट्रक्शन सामग्रियों के दाम बढ़ने से मार्जिन खत्म
    नारडेको के चेयरमैन निरंजन हीरानंदानी के मुताबिक पिछले छह महीनों में सीमेंट और इस्पात के दाम में 50 फीसदी तक बढ़ोतरी हो गई है. चूंकि मकान के स्ट्रक्चर निर्माण में इनका योगदान सबसे ज्यादा रहता है. इसलिए कंस्ट्रक्शन कॉस्ट में इजाफा हो गया है. हालांकि हीरानंदानी कहते हैं कि मकानों की गुणवत्ता, लोकेशन, डिजाइन और डिलीवरी टाइम आदि की वजह से उनका ग्राहक सेगमेंट अलग है. इसलिए कीमतों में मामूली बढ़त के बाद भी मांग में कमी नहीं आई है. भोपाल के असनानी बिल्डर्स के डायरेक्टर दीपेश असनानी कहते हैं कि कोरोना के बाद भी रियल एस्टेट में मांग बनी हुई है. कंस्ट्रक्शन सामग्रियों के दाम बढ़ने से मार्जिन न के बराबर रह गया है. इसलिए मकानों की कीमतों में वृद्धि हो रही है. अहमदाबाद, जयपुर और लखनऊ जैसे शहरों में भी यही स्थिति है.
    यह भी पढ़ें :   नौकरी की बात : पसंदीदा कंपनियों में काम करने के लिए गूगल अलर्ट लगाएं, जानें जॉब्स पाने के ऐसे ही बेहतरीन तरीके

    डीएलएफ, टाटा रियल्टी जैसी बड़ी कंपनियां भी बढ़ा रहीं दाम
    सूत्रों के मुताबिक, देश की बड़ी डेवलपर कंपनी डीएलएफ ने भी गुरुग्राम में अपने यार्ड्स और इन्डीपेंडेट फ्लोर की कीमतें बढ़ाई है. इसे बारे में डीएलएफ के प्रवक्ता ने अपनी टिप्पणी देने से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि कंपनी के नतीजे आने वाले है, इससे पहले कुछ भी डिस्क्लोज करना उचित नहीं होगा. हालांकि, गुरुग्राम में प्लाटों के दाम 16 हजार रुपए प्रति वर्ग फुट से बढ़कर 25 हजार रुपए प्रति वर्गफुट तक पहुंच गए हैं. टाटा रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर ने अपनी सभी 11 प्रोजेक्ट्स में तीन फीसदी तक बढ़ोतरी की है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.